यूपी में दो बड़े रेल हादसे टले, शक्तिपुंज एक्सप्रेस के सात डिब्बे डिरेल

यूपी में दो बड़े रेल हादसे टले, शक्तिपुंज एक्सप्रेस के सात डिब्बे डिरेल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सोनभद्र और फर्रुखाबाद में गुरुवार की सुबह दो रेल हादसे की खबर आई है। जहां सोनभद्र में हावडा से जबलपुर जा रही शक्तिपुंज एक्सप्रेस की सात बोगियां डिरेल हो गईं, वहीं दूसरी घटना फर्रुखाबाद​ ​शहर में हुई जहां स्थानीय नागरिकों की सर्तकता के चलते हादसे से पहले ही ट्रेन रोक दी गई।

मिली जानकारी के मुताबिक सोनभद्र के ओबरा में फफराकुंड इलाके में पटरियों के टूटे होने से शक्तिपुंज एक्सप्रेस के सात डिब्बे पटरी से उतर गए। घटना सुबह करीब 7 बजे घटी। हादसा के समय ट्रेन ऊंचाई पर होने के कारण धीमी गति से आगे बढ़ रही थी इस वजह से हादसा ज्यादा गंभीर परिणामों वाला नहीं रहा। घटना की जानकारी मिलने के बाद रेलवे के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर मरम्मत का कार्य शुरू करवा दिया है। अाधिकारिक रूप से इस हादसे में किसी भी यात्री को नुकसान पहुंचने की पुष्टि नहीं हुई है।

{ यह भी पढ़ें:- मां-बाप को टैबलेट देकर छात्रा से दो महीने किया गैंगरेप, पुलिस को बताने पर जिंदा जलाया }

वहीं दूसरे मामला फर्रुखाबाद में सामने आया है, जहां फर्रुखाबाद स्टेशन से फतेहगढ़ जार रही ​कालिन्द्री एक्सप्रेस को श्याम नगर कालोनी इलाके में एक स्थानीय व्यक्ति ने लाल कपड़ा दिखाकर रोक दिया। ट्रेन के रोकेजाने के बाद सामने आया कि ट्रैक के बीच करीब तीन इंच का टुकड़ा गायब था। घटना की जानकारी मिलने के साथ ही रेलवे के अधिकारी और स्थानीय प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर ट्रैक की जांच कर मरम्मत के कार्य को शुरू करवाकर संचालन शुरू करवा दिया।

स्थानीय लोगों का कहना है कि सुबह से कुछ ट्रेने इस हिस्से से गुजर चुकीं थी। इस बीच राह चलते किसी की नजर ट्रैक के टूटे हुए हिस्से पर पड़ी। सामने से कालिन्द्री एक्सप्रेस को आता देख एक युवक ने अपनी लाल शर्ट दिखाकर ट्रेन को रोक दिया।

{ यह भी पढ़ें:- UP नगर निकाय चुनाव 2017 : दूसरे चरण का मतदान शुरू, 25 जिलों में डाले जा रहे हैं मतदान }

आपको बता दें कि पिछले एक माह के भीतर उत्तर प्रदेश में इससे पहले तीन रेल हादसे हो चुके हैं। जिनमें से एक हादसा मुजफ्फरनगर में हुआ था। जिसमें 23 लोगों की मौत हुई थी और घटना की जिम्मेदारी लेते हुए केन्द्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभू ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। इस हादसे के बाद रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने भी अपना इस्तीफा दे दिया था।

Loading...