जम्मू कश्मीर में दो आतंकी हमले, दो जवान शहीद तीन आतंकी ढ़ेर

जम्मू। जम्मू कश्मीर में मंलवार की सुबह तड़के आतंकवादियों ने दो बड़ी वारदातों को अंजाम दिया है। पहली आतंकी वारदात नगरोटा में सामने आई जहां कुछ आतंकवादियों ने सेना कैंप पर आत्मघाती हमला बोल दिया वहीं दूसरी घटना सांबा सेक्टर में गश्ती कर रहे बीएसएफ के जवानों से भरे ट्रक पर कुछ आतंकियों ने फायरिंग कर दी। इन हमलों के बाद नगरोटा से दो जवानों के शहीद होने की जानकारी मिली है जबकि सेना के जवानों ने हमलों के बाद नगरोटा में एक और सांबा सेक्टर में दो आतंकियों को मार गिराया है।




मिली जानकारी के मुताबिक जम्मू कश्मीर के नगरोटा में आर्मी कैंप में घुसने की कोशिश कर रहे कुछ आतंकियों ने मंगलवार की सुबह करीब 5.30 बजे कैंप के गेट पर तैनात जवानों पर गननेट से हमला कर दिया। जिसकी चपेट में ड्यूटी पर तैनात संतरी समेंत 3 जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। जिनमें से दो ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। सेना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए आतंकवादियों को सेना कैंप के पास ही आबादी वाले इलाके के एक मकान में घेर लिया है। जहां आतंकियों और जवानों के बीच मुठभेड़ जारी बताई जा रही है। अंतिम समाचार मिलने तक इस हमले के बाद सेना नगरोटा के सभी स्कूलों को मंगलवार के लिए बंद करवा दिया है और सभी सार्वजनिक जगहों पर चौकसी बढ़ा दी है।




वहीं दूसरी घटना कश्मीर के सांबा सेक्टर में सामने आई है जहां गश्ती कर रही बीएसएफ की टुकड़ी पर कुछ ​हथियारबंंद आतंकवादियों ने हमला बोल दिया। जिसका जवाब देते हुए बीएसएफ के जवानों ने तीन आतंकियों को मार गिराया है। इस हमले में भी एक जवान के घायल होने की जानकारी मिली है।

मंलवार को हुई आतंकी वारदातों को पाकिस्तानी सेना के जनरल राहिल शरीफ के रिटायर्मेंट और नए जनरल कामर जावेद वाजबा के पद ग्रहण से जोड़कर देखा जा रहा है। सुरक्षा विशेषज्ञों की माने तों पाकिस्तान इन आतंकी हमलों के माध्यम से भारत को संदेश देना चाहता है कि सेना का नेतृत्व बदलने के बाद भी पाकिस्तान के रवैये में कोई बदलाव होने वाला नहीं है।




आपको बता दें कि इन दोनों आतंकी घटनाओं के बाद केन्द्रीय गृहमंत्रालय ने सभी सुरक्षाबलों को हाई एलर्ट कर दिया है। सभी सुरक्षाबलों के कैंपों को चौकना किया गया है।