रांची में नक्सलियों के साथ हुई मुटभेड़ में दो जवान शहीद

soldiers martyred
रांची में नक्सलियों के साथ हुई मुटभेड़ में दो जवान शहीद

रांची। झारखण्ड की राजधानी रांची के दशम इलाके में शुक्रवार भोर हुई नक्सलियों के साथ मुटभेड़ में झारखंड जगुआर के दो जवान शहीद हो गये जबकि कुछ जवानो के घायल होने की भी जानकारी बताई जा रही है। बताया गया कि इस इलाके में न​क्सलियों के होने की सूचना मिली थी तो सर्च आपरेशन चलाया गया था। इसी दौरान नक्सलियों ने जवानो पर हमला कर दिया। बताया गया कि घायल जवानो का रांची के मेडिका अस्पताल में इलाज जारी है।

Two Young Soldiers Martyred In Naxalites In Ranchi :

बताया गया कि दोनो शहीद जवानो में खंचन महतो रांची के सोनाहातु थाना इलाके के चैनपुर गांव के रहने वाले थे. वहीं अखिलेश राम पलामू के लेस्लीगंज थानाक्षेत्र स्थित कुंद्री गांव के रहने वाले थे। पुलिस द्वारा बताया गया कि दशम फॉल इलाके में नक्सली जोनल कमांडर महाराज प्रामाणिक के होने की सूचना पर गुरुवार शाम से सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा था। और शुक्रवार सुबह 5 बजे के लगभग नक्सलियों से पुलिस की मुटभेड़ हुई। शहीद अखिलेश राम को 6 गोलियां लगी थी ज‍बकि शहीद खंजन कुमार महतो को 3 गोलियां लगी थी।

घटना की जानकारी मिलने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि मैं दोनों जवानों के बलिदान को सलाम करता हूं. झारखंड में नक्सलवाद अपनी आखिरी सांस ले रहा है और हम तभी आराम करेंगे जब हम इसे पूरी तरह से मिटा देंगे। वहीं बता दें कि अभी भी डाकापीढ़ी जंगल में झारखंड जगुआर सहित कई अर्धसैनिक बलों द्वारा सर्च अभियान चलाया जा रहा है।

रांची। झारखण्ड की राजधानी रांची के दशम इलाके में शुक्रवार भोर हुई नक्सलियों के साथ मुटभेड़ में झारखंड जगुआर के दो जवान शहीद हो गये जबकि कुछ जवानो के घायल होने की भी जानकारी बताई जा रही है। बताया गया कि इस इलाके में न​क्सलियों के होने की सूचना मिली थी तो सर्च आपरेशन चलाया गया था। इसी दौरान नक्सलियों ने जवानो पर हमला कर दिया। बताया गया कि घायल जवानो का रांची के मेडिका अस्पताल में इलाज जारी है। बताया गया कि दोनो शहीद जवानो में खंचन महतो रांची के सोनाहातु थाना इलाके के चैनपुर गांव के रहने वाले थे. वहीं अखिलेश राम पलामू के लेस्लीगंज थानाक्षेत्र स्थित कुंद्री गांव के रहने वाले थे। पुलिस द्वारा बताया गया कि दशम फॉल इलाके में नक्सली जोनल कमांडर महाराज प्रामाणिक के होने की सूचना पर गुरुवार शाम से सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा था। और शुक्रवार सुबह 5 बजे के लगभग नक्सलियों से पुलिस की मुटभेड़ हुई। शहीद अखिलेश राम को 6 गोलियां लगी थी ज‍बकि शहीद खंजन कुमार महतो को 3 गोलियां लगी थी। घटना की जानकारी मिलने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि मैं दोनों जवानों के बलिदान को सलाम करता हूं. झारखंड में नक्सलवाद अपनी आखिरी सांस ले रहा है और हम तभी आराम करेंगे जब हम इसे पूरी तरह से मिटा देंगे। वहीं बता दें कि अभी भी डाकापीढ़ी जंगल में झारखंड जगुआर सहित कई अर्धसैनिक बलों द्वारा सर्च अभियान चलाया जा रहा है।