पति के बेइंतहा प्यार से परेशान पत्नी ने कोर्ट से मांगा तलाक, कहा- वह झगड़ता ही नहीं

uae
पति के बेइंतहा प्यार से परेशान पत्नी ने कोर्ट से मांगा तलाक, कहा- वह झगड़ता ही नहीं

नई दिल्ली। तलाक का अधिकतर कारण पति-पत्नी के बीच का झगड़ा बनता है लेकिन यूएई में इसके ठीक उलट एक मामला सामने आया है। यूएई की शरिया कोर्ट में झगड़ा न करने के कारण पत्नी ने पति से तलाक की अर्जी लगाई है।

Uae Woman Seeks Divorce From Husband Felt Choked By His Extreme Love :

महिला का कहना है कि उसका पति उससे बहुत ज्यादा प्यार करता है, जिससे अब वह ऊब गई है और तलाक लेना चाहती है। महिला ने फुजैरा की शरिया कोर्ट (Sharia Court) में खुला (महिलाओं द्वारा लिया जाने वाला तलाक) की अर्जी लगाई है। दोनों की शादी को केवल एक साल ही हुए हैं।

महिला ने आगे लिखा कि मैं पति के इतने ज्यादा प्यार से परेशान हो गई हूं। वह घर की सफाई में भी मेरी मदद करता है। विवाह के बाद से उसने कभी भी ऊंची आवाज में बात नहीं की है। बल्कि हमेशा घर के काम करने में मदद करता है।

तलाक के आवेदन में महिला ने लिखा कि पति के इस व्यवहार के कारण उसकी जिंदगी जहन्नुम बन गई है। मैं बहुत समय से पति से लड़ने की कोशिश कर रही हूं लेकिन वह कभी भी लड़ने का मौका नहीं देता बल्कि हमेशा अपनी नेकदिली और शराफत से उसे टाल देता है।

हालांकि शरिया कोर्ट ने इस केस पर विचार करने से इनकार कर दिया है। वहीं पति ने कोर्ट से अर्जी खारिज करने की अपील की है। उसने कहा कि शादी को लेकर एक साल में यह राय बनाना उचित नहीं होगा। वहीं कोर्ट ने पति-पत्नी से आपसी सुलह करने की सलाह दी है।

नई दिल्ली। तलाक का अधिकतर कारण पति-पत्नी के बीच का झगड़ा बनता है लेकिन यूएई में इसके ठीक उलट एक मामला सामने आया है। यूएई की शरिया कोर्ट में झगड़ा न करने के कारण पत्नी ने पति से तलाक की अर्जी लगाई है। महिला का कहना है कि उसका पति उससे बहुत ज्यादा प्यार करता है, जिससे अब वह ऊब गई है और तलाक लेना चाहती है। महिला ने फुजैरा की शरिया कोर्ट (Sharia Court) में खुला (महिलाओं द्वारा लिया जाने वाला तलाक) की अर्जी लगाई है। दोनों की शादी को केवल एक साल ही हुए हैं। महिला ने आगे लिखा कि मैं पति के इतने ज्यादा प्यार से परेशान हो गई हूं। वह घर की सफाई में भी मेरी मदद करता है। विवाह के बाद से उसने कभी भी ऊंची आवाज में बात नहीं की है। बल्कि हमेशा घर के काम करने में मदद करता है। तलाक के आवेदन में महिला ने लिखा कि पति के इस व्यवहार के कारण उसकी जिंदगी जहन्नुम बन गई है। मैं बहुत समय से पति से लड़ने की कोशिश कर रही हूं लेकिन वह कभी भी लड़ने का मौका नहीं देता बल्कि हमेशा अपनी नेकदिली और शराफत से उसे टाल देता है। हालांकि शरिया कोर्ट ने इस केस पर विचार करने से इनकार कर दिया है। वहीं पति ने कोर्ट से अर्जी खारिज करने की अपील की है। उसने कहा कि शादी को लेकर एक साल में यह राय बनाना उचित नहीं होगा। वहीं कोर्ट ने पति-पत्नी से आपसी सुलह करने की सलाह दी है।