कांग्रेस से मुलाकात के बाद बोले उद्धव-क्या बात हुई, आपको कैसे बताऊं?

Uddhav meets Congress
कांग्रेस से मुलाकात के बाद बोले उद्धव-क्या बात हुई, आपको कैसे बताऊं?

मुम्ब्ई। महाराष्ट्र में तय वक्त पर जब कोई पार्टी बहुमत साबित न कर सकी तो नतीजो के 19 दिन बाद महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया है। शिवसेना ने राष्ट्रपति शासन लगने पर सवाल उठाये और इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट भी पंहुचे। लेकिन आखिरकार महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया। शिवसेना ने दावा किया कि कांग्रेस व एनसीपी उसे समर्थन दे रही है लेकिन अभी तक उन्होने शिवसेना को लिखित समर्थन नही दिया है। वहीं उद्धव ठाकरे ने आज कांग्रेस के नेताओं से होटल जाकर बातचीत की है।

Uddhav Said After Meeting Congress What Happened How Can I Tell You :

शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे जब होटल से बाहर निकले तो उन्होंने मीडिया से सिर्फ इतना ही कहा कि कांग्रेस नेताओं से क्या बात हुई है, आपको कैसे बताऊं? आपको बता दें जबसे शिवसेना ने गठबन्धन तोड़ लिया तबसे एनसीपी और कांग्रेस खुलकर शिवसेना के समर्थन में आ गये हैं, दोनो पार्टियों शिवसेना के साथ सरकार बनाने को तैयार हैं लेकिन इसके लिए उनकी कुछ शर्तें हैं और उन्ही शर्तों पर एनसीपी और कांग्रेस के बीच बातचीत चल रही है। तीनों पार्टियों एक कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

नतीजों के बाद जिस दिन से भाजपा और शिवसेना का गठबन्धन टूटा हैं, यहां पर हर पल सत्ता का गणित बदल रहा है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुंबई के ट्राइडेंट होटल में कांग्रेस की कॉर्डिनेशन कमेटी से मुलाकात की है। बताया जा रहा है कि इस मीटिंग में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर बातचीत हुई है। हालांकि उद्धव ने कहा ​है कि इस दौरान सकारात्मक बातचीत हुई है। वहीं कांग्रेस के नेता कह रहे हैं कि जो आलाकमान कहेगा वही करेंगे।

मुम्ब्ई। महाराष्ट्र में तय वक्त पर जब कोई पार्टी बहुमत साबित न कर सकी तो नतीजो के 19 दिन बाद महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया है। शिवसेना ने राष्ट्रपति शासन लगने पर सवाल उठाये और इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट भी पंहुचे। लेकिन आखिरकार महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया। शिवसेना ने दावा किया कि कांग्रेस व एनसीपी उसे समर्थन दे रही है लेकिन अभी तक उन्होने शिवसेना को लिखित समर्थन नही दिया है। वहीं उद्धव ठाकरे ने आज कांग्रेस के नेताओं से होटल जाकर बातचीत की है। शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे जब होटल से बाहर निकले तो उन्होंने मीडिया से सिर्फ इतना ही कहा कि कांग्रेस नेताओं से क्या बात हुई है, आपको कैसे बताऊं? आपको बता दें जबसे शिवसेना ने गठबन्धन तोड़ लिया तबसे एनसीपी और कांग्रेस खुलकर शिवसेना के समर्थन में आ गये हैं, दोनो पार्टियों शिवसेना के साथ सरकार बनाने को तैयार हैं लेकिन इसके लिए उनकी कुछ शर्तें हैं और उन्ही शर्तों पर एनसीपी और कांग्रेस के बीच बातचीत चल रही है। तीनों पार्टियों एक कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाने की कोशिश कर रहे हैं। नतीजों के बाद जिस दिन से भाजपा और शिवसेना का गठबन्धन टूटा हैं, यहां पर हर पल सत्ता का गणित बदल रहा है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुंबई के ट्राइडेंट होटल में कांग्रेस की कॉर्डिनेशन कमेटी से मुलाकात की है। बताया जा रहा है कि इस मीटिंग में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर बातचीत हुई है। हालांकि उद्धव ने कहा ​है कि इस दौरान सकारात्मक बातचीत हुई है। वहीं कांग्रेस के नेता कह रहे हैं कि जो आलाकमान कहेगा वही करेंगे।