1. हिन्दी समाचार
  2. दर्शकों के डर से अंपायर इयान गूल्ड ने नहीं दिया था सचिन को 190 पर आउट: डेल स्टेन

दर्शकों के डर से अंपायर इयान गूल्ड ने नहीं दिया था सचिन को 190 पर आउट: डेल स्टेन

Umpire Ian Gould Did Not Give Sachin Out At 190 For Fear Of Spectators Dale Steyn

By रवि तिवारी 
Updated Date

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट इतिहास में कई बड़े रिकॉर्ड बनाए. सबसे ज्यादा रन से लेकर सबसे ज्यादा शतक तक, सैकड़ों रिकॉर्ड सचिन ने बनाए. इनमें से ही एक रिकॉर्ड था वनडे में दोहरे शतक का. 2010 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ ग्वालियर में सचिन वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने थे. हालांकि साउथ अफ्रीका के दिग्गज तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने दावा किया है कि उन्होंने सचिन को 200 से पहले ही आउट कर दिया था, लेकिन अंपायर ने डर के कारण आउट नहीं दिया था.

पढ़ें :- विश्व के सबसे बड़े पर्यटन क्षेत्र के रूप में उभर रहा है केवड़िया: PM मोदी

क्रिकेट इतिहास के सबसे बेहतरीन तेज गेंदबाजों में से एक स्टेन ने कहा है कि उस मैच में उन्होंने सचिन को 190 रन के आस-पास आउट कर दिया था, लेकिन अंपायर इयान गोउल्ड ने फैसला उनके पक्ष में नहीं दिया.

अंपायर को लग गया था डर

स्टेन ने ये बात स्काय स्पोर्ट्स के एक चैट शो में कही. इस शो में उनके साथ इस पीढ़ी के एक और बेहतरीन तेज गेंदबाज इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन भी मौजूद थे, जहां दोनों ने अपने करियर पर बातें की. इस दौरान ग्वालियर वनडे के बारे में बात करते हुए स्टेन ने कहा, “तेंदुलकर ने ग्वालियर में हमारे खिलाफ वनडे क्रिकेट में पहला दोहरा शतक बनाया. मुझे याद है कि वह 190 के आस-पास थे, तब मैंने उन्हें LBW कर दिया था. इयान गोउल्ड उस वक्त अंपायर थे और उन्होंने नॉट आउट दिया था.”

स्टेन ने गोउल्ड से अपनी बातचीत को याद करते हुए बताया, “मैंने उनसे पूछा कि तुमने नॉट आउट क्यों दिया? वो सीधे सीधे आउट था. और उनका इशारा था- देखो दोस्त. अपने चारों ओर देखो. अगर मैंने आउट दिया तो मैं वापस अपने होटल नहीं लौट सकूंगा.”

पढ़ें :- सीएम योगी ने झांसी में स्ट्रॉबेरी महोत्सव का किया वर्चुअल शुभारम्भ, कहा-बुन्देलखण्ड में मिलेगी ...

सचिन को खराब गेंद नहीं डाल सकते

सचिन ने उस मैच में 200 रन बनाए और आखिर तक आउट नहीं हुए. भारत ने उस मैच में 401 रन बनाए और साउथ अफ्रीका को आसानी से हरा दिया.

सचिन के बारे में बात करते हुए स्टेन ने कहा कि वो इतने शानदार थे कि आप उन्हें एक भी खराब गेंद नहीं डालना चाहते, क्योंकि वो आपको आसानी से चौका जड़ देते थे.  

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...