संयुक्त राष्ट्र ने आंतकी हाफिज सईद को दी राहत, अब खातों से निकाल सकेगा पैसा

hafij
संयुक्त राष्ट्र ने आंतकी हाफिज सईद को दी राहत, अब खातों से निकाल सकेगा पैसा

नई दिल्ली। मुंबई हमले का मास्टरमाइंड और अंतरराष्ट्रीय आतंकी हाफिज सईद आजकल एक एक पैसे का मोहताज है। पाकिस्तान के अनुरोध पर संयुक्त राष्ट्र से हाफिज सईद को राहत मिली है। अब आतंकी हाफिज सईद अपने बैंक खाते से पैसे निकाल सकेगा। मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड और लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद को राहत दिलाने के लिए पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र का दरवाजा खटखटाया था, जिसमें पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से हाफिज सईद को अपने बैंक खाते का इस्तेमाल करने की इजाजत मांगी थी। शुरुआती विरोध के बाद संयुक्त राष्ट्र की समिति ने रोजमर्रा के खर्चों के लिए हाफिज सईद को अपने खाते का इस्तेमाल करने की अनुमति दे दी है।

Un Gives Relief To Terrorist Hafiz Saeed Now Money Can Be Withdrawn From Accounts :

पाकिस्तान ने 15 अगस्त को यूएनएससी में एक नोटिफिकेशन दायर कर समिति से गुहार लगाई थी कि आतंकी हाफिज सईद, हाजी मुहम्मद अशरफ और जफर इकबाल को अपने खर्चों के लिए उनके बैंक खातों को प्रयोग करने की अनुमति दी जाए। जिसके बाद समिति ने यह फैसला लिया है।

पाकिस्तान के अनुरोध पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पैनल ने कहा कि पाकिस्तान ने यूएनएससी प्रस्ताव 1267 का अनुपालन करते हुए आतंकी हाफिज सईद के बैंक खाते फ्रीज कर दिए गए थे। अमेरिकी ट्रेजरी विभाग ने 26/11 के मुंबई हमले के मास्टरमाइंड को विशेष रूप से नामित वैश्विक आतंकवादी घोषित किया है। साथ ही हाफिज सईद की जानकारी देने के लिए लगभग 70 करोड़ रुपये ($10 मिलियन) का इनाम रखा है।

संयुक्त राष्ट्र की समिति ने अपने पत्र में कहा कि हाफिज सईद के बुनियादी खर्चों के लिए पाकिस्तान के अनुरोध पर कोई आपत्ति नहीं होने पर, चेयर ने अपील को मंजूरी दे दी है। पाकिस्तानी सरकार द्वारा यूएनएससी प्रस्ताव का अनुपालन करते हुए हाफिज सईद के बैंक खाते फ्रीज कर दिए गए थे। पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से अनुरोध किया था कि हाफिज सईद को 1,50,000 पाकिस्तानी रुपये (लगभग 1,000 डॉलर) प्रयोग करने के लिए बैंक खातों का प्रयोग करने दिया जाए।

गौरतलब है कि आतंकी हाफिज सईद को पाकिस्तान में जुलाई महीने में आतंकी फंडिंग के मामले गिरफ्तार किया गया था। संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित किए गए वैश्विक आतंकी सईद को फिलहाल कड़ी सुरक्षा के बीच लाहौर के कोट लखपत जेल में रखा गया है। आतंकी हाफिज सईद मुंबई में 2008 में हुए आतंकी हमलों का मास्टर माइंड है और उसे वैश्विक आतंकवादी घोषित किया जा चुका है।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद समिति को लिखे पत्र में पाकिस्तान ने कहा है कि हाफिज सईद चार सदस्यों के परिवार का अकेला गुजारा चलाता है, इसलिए उसे बैंक खातों का प्रयोग करने दिया जाए।

पाकिस्तान ने यह कदम तब उठाया है जब वह सारी दुनिया में ढिढोरा पीट रहा है कि वह आतंकवाद के खिलाफ कड़े कदम उठा रहा है। मई में, पाकिस्तान के आतंकवाद-रोधी विभाग ने हाफिज सईद और जमात-उद-दावा के शीर्ष नेताओं पर आतंकी वित्तपोषण के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया था। अधिकारियों ने सईद को गिरफ्तार भी कर लिया था।

नई दिल्ली। मुंबई हमले का मास्टरमाइंड और अंतरराष्ट्रीय आतंकी हाफिज सईद आजकल एक एक पैसे का मोहताज है। पाकिस्तान के अनुरोध पर संयुक्त राष्ट्र से हाफिज सईद को राहत मिली है। अब आतंकी हाफिज सईद अपने बैंक खाते से पैसे निकाल सकेगा। मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड और लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद को राहत दिलाने के लिए पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र का दरवाजा खटखटाया था, जिसमें पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से हाफिज सईद को अपने बैंक खाते का इस्तेमाल करने की इजाजत मांगी थी। शुरुआती विरोध के बाद संयुक्त राष्ट्र की समिति ने रोजमर्रा के खर्चों के लिए हाफिज सईद को अपने खाते का इस्तेमाल करने की अनुमति दे दी है। पाकिस्तान ने 15 अगस्त को यूएनएससी में एक नोटिफिकेशन दायर कर समिति से गुहार लगाई थी कि आतंकी हाफिज सईद, हाजी मुहम्मद अशरफ और जफर इकबाल को अपने खर्चों के लिए उनके बैंक खातों को प्रयोग करने की अनुमति दी जाए। जिसके बाद समिति ने यह फैसला लिया है। पाकिस्तान के अनुरोध पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पैनल ने कहा कि पाकिस्तान ने यूएनएससी प्रस्ताव 1267 का अनुपालन करते हुए आतंकी हाफिज सईद के बैंक खाते फ्रीज कर दिए गए थे। अमेरिकी ट्रेजरी विभाग ने 26/11 के मुंबई हमले के मास्टरमाइंड को विशेष रूप से नामित वैश्विक आतंकवादी घोषित किया है। साथ ही हाफिज सईद की जानकारी देने के लिए लगभग 70 करोड़ रुपये ($10 मिलियन) का इनाम रखा है। संयुक्त राष्ट्र की समिति ने अपने पत्र में कहा कि हाफिज सईद के बुनियादी खर्चों के लिए पाकिस्तान के अनुरोध पर कोई आपत्ति नहीं होने पर, चेयर ने अपील को मंजूरी दे दी है। पाकिस्तानी सरकार द्वारा यूएनएससी प्रस्ताव का अनुपालन करते हुए हाफिज सईद के बैंक खाते फ्रीज कर दिए गए थे। पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से अनुरोध किया था कि हाफिज सईद को 1,50,000 पाकिस्तानी रुपये (लगभग 1,000 डॉलर) प्रयोग करने के लिए बैंक खातों का प्रयोग करने दिया जाए। गौरतलब है कि आतंकी हाफिज सईद को पाकिस्तान में जुलाई महीने में आतंकी फंडिंग के मामले गिरफ्तार किया गया था। संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित किए गए वैश्विक आतंकी सईद को फिलहाल कड़ी सुरक्षा के बीच लाहौर के कोट लखपत जेल में रखा गया है। आतंकी हाफिज सईद मुंबई में 2008 में हुए आतंकी हमलों का मास्टर माइंड है और उसे वैश्विक आतंकवादी घोषित किया जा चुका है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद समिति को लिखे पत्र में पाकिस्तान ने कहा है कि हाफिज सईद चार सदस्यों के परिवार का अकेला गुजारा चलाता है, इसलिए उसे बैंक खातों का प्रयोग करने दिया जाए। पाकिस्तान ने यह कदम तब उठाया है जब वह सारी दुनिया में ढिढोरा पीट रहा है कि वह आतंकवाद के खिलाफ कड़े कदम उठा रहा है। मई में, पाकिस्तान के आतंकवाद-रोधी विभाग ने हाफिज सईद और जमात-उद-दावा के शीर्ष नेताओं पर आतंकी वित्तपोषण के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया था। अधिकारियों ने सईद को गिरफ्तार भी कर लिया था।