1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. पीएम मोदी की योजना के तहत लाभार्थी को नहीं मिल रहा इलाज, हालत हो रही नाज़ुक

पीएम मोदी की योजना के तहत लाभार्थी को नहीं मिल रहा इलाज, हालत हो रही नाज़ुक

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

हरियाणा। देशभर में लागू हुए गरीबों के लिए ‘आयुष्मान भारत स्वास्थ्य योजना’ की पहली लाभार्थी करिश्मा को पिछले 15 दिनों से सही इलाज ना मिलने की वजह से उसकी हालत और भी नाज़ुक होती जा रही है। करिश्मा के माता-पिता उसे लेकर अस्पतालों के चक्कर काट रहें हैं। पीएम मोदी की इस योजना के तहत बच्ची ‘आयुष्मान भारत योजना’ की पहली लाभार्थी बनी थी। पहली लाभार्थी होने की वजह से पीएम मोदी ने उसे ‘आयुष्मान बेबी’ कहा था।

बता दें कि 8 महीने की करिश्मा का इलाज ‘कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज’ में पिछले 15 दिनों से चल रहा है, मगर उसकी हालत सुधरने की बजाए और भी बिगड़ती जा रही है। वहीं, करिश्मा के माता का कहना है कि “डॉक्टर रूटीन चेकअप कर रहे हैं और दवा लिख रहे हैं, लेकिन उसका बुखार नहीं उतर रहा है। बच्ची का वजन भी दो किलो तक कम हो गया है।”

साथ ही करिश्मा के पिता ने ये भी बताया कि “मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों को करिश्मा का ‘आयुष्मान भारत योजना’ का बना कार्ड और प्रधानमंत्री का बधाई संदेश दिखाने के बाद भी अस्पतालों के लोगों ने एक नहीं सुनी।

रविवार को करिश्मा के पिता अमित और माता मौसमी ने ये आरोप लगाया है कि जब वो बच्ची को लेकर कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कॉलेज पहुंचे तो वहां उनकी किसी ने नहीं सुनी और वो बच्ची के इलाज के लिए दिन-भर भटकते रहे।

बताते चले कि देश के गरीबों लिए पीएम मोदी ने हेल्थ इंश्योरेंस की एक स्कीम बनाई। जो ‘आयुष्मान भारत योजना’ के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को सालाना 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा देने की बात की गई थी। इस योजना को 25 सितंबर 2018 को लागू किया गया था।

इस योजना का लाभ महिलाओं, बच्चों और सीनियर सिटीजन के लोगों को खास तौर पर देने देने के लिए कहा गया था। साल 2008 में यूपीए सरकार द्वारा लांच राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना NHBY को भी आयुष्मान भारत योजना ABY में मिलाया गया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...