साल 2018 के बजट में मोदी सरकार दे सकती है हेल्थ इंश्योरेंस का तोहफा

नई दिल्ली। मोदी सरकार 1 फरवरी को पेश होने वाले बजट में सभी लोगों को स्वास्थ्य बीमा का लाभ दे सकती है। देश में करीब 70 फीसदी लोगों के पास स्वास्थ्य बीमा नहीं है। सरकार अब हर एक व्यक्ति को हेल्थ इंश्योरेंस देगी ताकि किसी तरह की बीमारी होने पर किसी को इलाज मिलने में परेशानी न हो। हेल्थ इंश्योरेंस कवर 3 से 5 लाख रुपये क का हो सकता है। सूत्रों के मुताबिक, सबको हेल्थ इंश्योरेंस देने के लिए…

नई दिल्ली। मोदी सरकार 1 फरवरी को पेश होने वाले बजट में सभी लोगों को स्वास्थ्य बीमा का लाभ दे सकती है। देश में करीब 70 फीसदी लोगों के पास स्वास्थ्य बीमा नहीं है। सरकार अब हर एक व्यक्ति को हेल्थ इंश्योरेंस देगी ताकि किसी तरह की बीमारी होने पर किसी को इलाज मिलने में परेशानी न हो। हेल्थ इंश्योरेंस कवर 3 से 5 लाख रुपये क का हो सकता है।

सूत्रों के मुताबिक, सबको हेल्थ इंश्योरेंस देने के लिए 5,000 करोड़ रुपये का बजट तय किया जाएगा। सरकार की इस योजना के तहत निजी बीमा कंपनियों को बड़ी भूमिका मिल सकती है। सूत्रों के मुताबिक, ट्रस्ट बनाकर स्वास्थ्य बीमा देने पर भी विचार जारी है। हेल्थ इंश्योरेंस सेंट्रल स्पॉन्सर्ड स्कीम के तहत दिया जाएगा। इसमें कुल खर्च का 60 फीसदी केंद्र और 40 फीसदी हिस्सा राज्य वहन करेंगे।

{ यह भी पढ़ें:- कैशलेस ट्रांजैक्शन में हुआ 60 फीसदी बढ़ावा, डिजिटल इंडिया का सपना जल्द होगा पूरा }

तीन तरह की हैं हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम

  • पहली स्कीम में गरीबी रेखा से नीचे वालों को इंश्योरेंस कवर दिया जाएगा। इसे कल्याण स्कीम का नाम दिया जाएगा।
  • दूसरी स्कीम 2 लाख रुपये तक के आयवालों के लिए होगी, जिसका नाम सौभाग्य स्कीम होगा।
  • 2 लाख से ज्यादा आमदनी वाले सभी वर्गों के लिए सर्वोदय स्कीम लाई जा सकती है।
  • गरीबी रेखा से नीचे रहनेवाले और 2 लाख से कम आमदनी वालों का प्रीमियम सरकार भरेगी। इससे ज्यादा की आमदनी वालों से हेल्थ इंश्योरेंस के लिए प्रीमियम लिया जाएगा जो कि मामूली होगा।

वित्त मंत्रालय के मुताबिक, देश में करीब 70 फीसदी लोगों के पास हेल्थ इंश्योरेंस कवर नहीं है। यही कारण है कि बीमार होने पर इलाज के लिए उनके पास उतने पैसे नहीं होते हैं। इसके मद्देनजर ही हर नागरिकों को हेल्थ इंश्योरेंस के दायरे में लाने का फैसला लिया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- मोदी सरकार ला रही है नई 'वर्चुअल ID', 1 जून से बढ़ जाएगी आपके आधार कार्ड की सुरक्षा }

Loading...