AIMIM नेता का ऐलान- ‘हेगड़े की जीभ काटकर लाओ, एक करोड़ ले जाओ’

बेंगलुरु। केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने सेक्युलरिज्म (धर्मनिरपेक्षता) के मुद्दे पर विवादास्पद बयान दिया। कर्नाटक में हेगड़े ने कहा कि धर्मनिरपेक्ष और प्रगतिशील होने का दावा वे लोग करते हैं, जिन्हें अपने मां-बाप के खून का पता नहीं होता। लोगों को अपनी पहचान सेक्युलर के बजाय धर्म और जाति के आधार पर बतानी चाहिए। हम संविधान में संशोधन कर सेक्युलर शब्द हटा सकते हैं। हेगड़े के इस बयान ने हंगामा खड़ा कर दिया है। अब AIMIM के नेता गुरुशांत पट्टेदार ने हेगड़े की जुबान काटकर लाने वाले को 1 करोड़ रुपए इनाम में देने का ऐलान कर दिया है।

कोप्पल जिले के कुकानूर में ब्राह्मण युवा परिषद के कार्यक्रम में हेगड़े ने कहा था कि वे लोग जो अपनी जड़ों से अनभिज्ञ होते हुए खुद को धर्मनिरपेक्ष कहते हैं, उनकी खुद की कोई पहचान नहीं होती। उन्हें अपनी जड़ों का पता नहीं होता, लेकिन वे बुद्धिजीवी होते हैं। इस मौके पर उन्होंने परिषद की महिला विंग की वेबसाइट लॉन्च की। उन्होंने कहा कि आप अपनी रगों में बह रहे खून के बारे में जानते हैं, इसलिए मैं आपको नमन करता हूं।

{ यह भी पढ़ें:- भ्रष्‍टाचारी यादव सिंह पर CBI ने दर्ज किया एक और केस }

हेगड़े के इस बयान से नाराज़ AIMIM के नेता गुरुशांत पट्टेदार ने स्थानीय मीडिया से बात करते हुए कहा कि अनंत कुमार हेगड़े ने पिछड़ी जाति और अल्पसंख्यकों के लिए बेहद अपमानजनक बातें कही हैं। आज मंगलवार को मैं ऐलान करता हूं कि जो कोई भी दिन खत्म होने से पहले हेगड़े की जुबान काट कर लाएगा उसे मैं 1 करोड़ रुपए दूंगा।

Loading...