एसओ पर भड़के केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे, कहा वर्दी उतरवा दूंगा

ashwani chaube
एसओ पर भड़के केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे, कहा वर्दी उतरवा दूंगा

पटना। केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अश्विनी चौबे मंगलवार को अपने संसदीय क्षेत्र बक्सर में थे। बक्सर में उन्होंने जनता दरबार का आयोजन किया था। इस मौके पर एक भाजपा कार्यकर्ता ने उनसे शिकायत करते हुए कहा कि पुलिस ने उसको बेवजह गुंडा एक्ट में फंसा दिया है। यह सुनते ही मंत्री जी भड़क गए। अश्विनी चौबे ने लोगों के सामने ही वहां मौजूद थानेदार को वर्दी तक उतर जाने की धमकी दे डाली। हाल के दिनों में यह दूसरा मौका है जब भाजपा के नेता नीतीश कुमार के प्रशासन को चुनौती दे रहे हैं।

Union Minister Ashwini Choubey Furious Over So Said I Will Remove The Uniform :

बक्सर के डुमरांव में जनता दरबार के बीच अश्वनी चौबे ने कहा कि क्या पुलिस को आम आदमी भी गुंडा नजर आता है? मंत्री ने आगे कहा कि जो गुंडा है उस पर तो पुलिस में कार्रवाई करने की हिम्मत नहीं है, पर निर्दोष लोगों को बेवजह परेशान करती है। बाद में सफाई देते हुए चौबे ने कहा कि कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं और अन्य राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं ने 2003 में भ्रष्टाचार और अपराध के खिलाफ प्रदर्शन किया था, जिन्हें वर्तमान प्रशासन द्वारा ‘गुंडा’ कहा गया था। मैंने पुलिस कर्मियों से कहा कि किसी को ‘गुंडा’ कहना सही नहीं है।

पटना। केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अश्विनी चौबे मंगलवार को अपने संसदीय क्षेत्र बक्सर में थे। बक्सर में उन्होंने जनता दरबार का आयोजन किया था। इस मौके पर एक भाजपा कार्यकर्ता ने उनसे शिकायत करते हुए कहा कि पुलिस ने उसको बेवजह गुंडा एक्ट में फंसा दिया है। यह सुनते ही मंत्री जी भड़क गए। अश्विनी चौबे ने लोगों के सामने ही वहां मौजूद थानेदार को वर्दी तक उतर जाने की धमकी दे डाली। हाल के दिनों में यह दूसरा मौका है जब भाजपा के नेता नीतीश कुमार के प्रशासन को चुनौती दे रहे हैं। बक्सर के डुमरांव में जनता दरबार के बीच अश्वनी चौबे ने कहा कि क्या पुलिस को आम आदमी भी गुंडा नजर आता है? मंत्री ने आगे कहा कि जो गुंडा है उस पर तो पुलिस में कार्रवाई करने की हिम्मत नहीं है, पर निर्दोष लोगों को बेवजह परेशान करती है। बाद में सफाई देते हुए चौबे ने कहा कि कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं और अन्य राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं ने 2003 में भ्रष्टाचार और अपराध के खिलाफ प्रदर्शन किया था, जिन्हें वर्तमान प्रशासन द्वारा 'गुंडा' कहा गया था। मैंने पुलिस कर्मियों से कहा कि किसी को 'गुंडा' कहना सही नहीं है।