1. हिन्दी समाचार
  2. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले, राहुल, ओवैसी और टुकड़े-टुकड़े गैंग देश में गृह युद्ध कराना चाहते हैं

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले, राहुल, ओवैसी और टुकड़े-टुकड़े गैंग देश में गृह युद्ध कराना चाहते हैं

Union Minister Giriraj Singh Said Rahul Owaisi And Piecemeal Gang Want To Wage Civil War In The Country

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे विपक्षी दलों पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने तीखा पलटवार किया है। गिरिराज सिंह ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि ये लोग देश में गृह युद्ध कराना चाहते हैं। गिरिराज सिंह ने कांग्रेस और असदुद्दीन ओवैसी पर भी निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि जो मुगल और अंग्रेज देश में नहीं कर सके वो राहुल गांधी, कांग्रेस, टुकड़े-टुकड़े गैंग और असदुद्दीन ओवैसी करना चाहते हैं। ये लोग भारत को बांटना चाहते हैं।

पढ़ें :- भारत में गज़ब फीचर्स के साथ लॉन्च होगा Honor V40 5G, जानिए कीमत

नागरिकता संशोधन कानून, एनआरसी और डिटेंशन कैंप को लेकर छिड़ी बहस के बीच गिरिराज सिंह ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री भारत माता के प्रति पूरी तरह से समर्पित हैं, लेकिन राहुल गांधी झूठ फैला रहे हैं। 2011 में कांग्रेस ने डिटेंशन कैंप बनवाया था। मैं कांग्रेस को चुनौती देता हूं अगर उनके अंदर हिम्मत है तो वह कह दें कि उन्होंने डिटेंशन कैंप नहीं बनवाया था, मैं अपने पद से इस्तीफा दे दूंगा। अगर वो ऐसा नहीं करते हैं तो वह अपने पद से इस्तीफा दे दें। गिरिराज ने कहा कि राहुल गांधी बताएं कि देश में असम में किस सरकार ने डिटेंशन सेंटर खोला था और कितने डिटेंशन सेंटर खोले गए थे।

राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए गिरिराज सिंह ने कहा कि उनका काम सिर्फ झूठ बोलना है। ओवैसी, राहुल गांधी और टुकड़े-टुकड़े गैंग पाकिस्तान का एजेंडा भारत में चला रहे हैं। बता दें कि इससे पहले राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर तीखा हमला बोला था।

बता दें कि सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन चल रहा है। राहुल गांधी इस मुद्दे को लेकर बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं। देश में ‘हिरासत केंद्र’ नहीं होने से जुड़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कथित बयान को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को उन पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि ‘आरएसएस के प्रधानमंत्री’ भारत माता से झूठ बोलते हैं।

पढ़ें :- नसबंदी शिविर का आयोजन, ऑपरेशन के बाद खुले आसमान के नीचे महिलाओं को लेटाया

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...