केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी कोझिकोड एयरपोर्ट का जायजा लेने जायेंगे, हादसे पर जताया दुख

    keral
    केरल विमान हादसा: कोझिकोड के रनवे को लेकर बड़ा खुलासा, विशेषज्ञ ने नौ वर्ष पूर्व कही थी यह बड़ी बात

    नई दिल्ली। केरल के कोझिकोड में करीपुर एयरपोर्ट पर शुक्रवार शाम एयर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान लैंडिंग के दौरान फिसल कर खाई में चला गया। इस हादसे में दो पायलट समेत 18 लोगों की जान चली गयी है। इस हादसे पर केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने दुख जताया है।

    Union Minister Hardeep Singh Puri Will Visit Kozhikode Airport Expressing Grief Over The Accident :

    उन्होंने कहा कि इस हादसे में 18 लोगों की जान गयी है, जबकि 127 लोग अस्पताल में भर्ती हैं। शुक्र है कि विमान में आग नहीं लगी। मैं कोझिकोड एयरपोर्ट जा रहा हूं। बता दें कि, यह विमान दुबई से आ रहा था। इस विमान में पायलट और क्रू मेंबर समेत 190 यात्री सवार थे।

    विमान में सवार यात्रियों में 128 पुरुष, 46 महिलाएं और 10 बच्चे थे। हादसे में 18 लोगों की मौत हुई है और 123 लोग घायल हुए हैं। वहीं, 15 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। बताया जा रहा है कि विमान फिसलने के बाद करीब 30 फीट गहरी खाई में जा गिरा।

    कोझिकोड का हवाई अड्डा भौगोलिक रूप से ‘टेबल टॉप’ है, मतलब हवाई पट्टी के इर्द-गिर्द खाई है। इसी कारण रनवे पर फिसलने के बाद विमान खाई में जा गिरा और दो टुकड़ों में बंट गया।

     

    नई दिल्ली। केरल के कोझिकोड में करीपुर एयरपोर्ट पर शुक्रवार शाम एयर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान लैंडिंग के दौरान फिसल कर खाई में चला गया। इस हादसे में दो पायलट समेत 18 लोगों की जान चली गयी है। इस हादसे पर केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने दुख जताया है। उन्होंने कहा कि इस हादसे में 18 लोगों की जान गयी है, जबकि 127 लोग अस्पताल में भर्ती हैं। शुक्र है कि विमान में आग नहीं लगी। मैं कोझिकोड एयरपोर्ट जा रहा हूं। बता दें कि, यह विमान दुबई से आ रहा था। इस विमान में पायलट और क्रू मेंबर समेत 190 यात्री सवार थे। विमान में सवार यात्रियों में 128 पुरुष, 46 महिलाएं और 10 बच्चे थे। हादसे में 18 लोगों की मौत हुई है और 123 लोग घायल हुए हैं। वहीं, 15 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। बताया जा रहा है कि विमान फिसलने के बाद करीब 30 फीट गहरी खाई में जा गिरा। कोझिकोड का हवाई अड्डा भौगोलिक रूप से 'टेबल टॉप' है, मतलब हवाई पट्टी के इर्द-गिर्द खाई है। इसी कारण रनवे पर फिसलने के बाद विमान खाई में जा गिरा और दो टुकड़ों में बंट गया।