1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. किसान आंदोलन के उपरांत पंजाब में चुनाव लड़ रही संयुक्त किसान मोर्चा ने किया, 6 सीटों पर उद्योगपतियों को टिकट देने का एलान

किसान आंदोलन के उपरांत पंजाब में चुनाव लड़ रही संयुक्त किसान मोर्चा ने किया, 6 सीटों पर उद्योगपतियों को टिकट देने का एलान

किसान आंदोलन से उपजे किसानों के संगठन संयुक्त किसान मोर्चा ने पंजाब के ​अगामी विधानसभा के चुनाव में चुनावी मैदान में उतरने का फैसला किया है। सयुक्त किसान मोर्चा ने प्रत्याशियों के आवेदन भी मंगा लिए हैं।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

चंडीगढ़। किसान आंदोलन(Kisan Aandolan) से उपजे किसानों के संगठन संयुक्त किसान मोर्चा ने पंजाब के ​अगामी विधानसभा के चुनाव में चुनावी मैदान में उतरने का फैसला किया है। सयुक्त किसान मोर्चा ने प्रत्याशियों के आवेदन भी मंगा लिए हैं। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए मजबूर करने वाले किसान संगठनों में से एक संयुक्त किसान मोर्चा अब पंजाब(Punjab) के सियासी अखाड़े में नजर आयेगा।

पढ़ें :- राकेश टिकैत का बड़ा बयान, बोले- यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी का करेंगे विरोध

आंदोलन के दौरान ये वही संगठन थे ​जिन्होंने सरकार पर उद्योगपतियों के हांथ की कठपुतली होने का आरोप लगाया था। लेकिन अगामी चुनाव में संयुक्त किसान मोर्चा का दोहरा चरित्र सामने आया है। किसान राजनीतिक संगठन के नेताओं ने कहा कि लुधियाना के छह शहरी क्षेत्रों का टिकट उद्योगपतियों को देने का ऐलान किया है। शुक्रवार शाम एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मोर्चा के नेता प्रेम सिंह भंगू ने कहा कि एसएसएम(SKM) ने घोषणा की थी कि वह सभी 117 निर्वाचन क्षेत्रों में ईमानदार, शिक्षित और योग्य उम्मीदवारों को मैदान में उतारेगा। हमें अच्छी प्रतिक्रिया मिली है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...