रद्द हो सकती हैं विश्वविद्यालयों की परीक्षा, दो जुलाई को आएगा फैसला

रद्द हो सकती हैं विश्वविद्यालयों की परीक्षा, दो जुलाई को आएगा फैसला
रद्द हो सकती हैं विश्वविद्यालयों की परीक्षा, दो जुलाई को आएगा फैसला

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते राज्य के विश्वविद्यालयों की परीक्षा रद्द ह सकती है। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ के कुलपति प्रो. एनके तनेजा की अध्यक्षता में गठित चार सदस्यीय कमेटी ने राज्य विश्वविद्यालयों की प्रस्तावित परीक्षाएं निरस्त करने की सिफारिश की है। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि कमेटी की रिपोर्ट पर दो जुलाई को फैसला लिया जाएगा,, हालांकि पहली जुलाई को केंद्र सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय की गाइड लाइन जारी होने वाली है।

Universities May Cancel Examinations Committee Will Decide On 2 July :

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार को उनके सरकारी आवास पर हुई बैठक में भी इस मुद्दे पर विचार किया गया। इस बैठक में उच्च शिक्षा के साथ-साथ बेसिक शिक्षा व माध्यमिक शिक्षा से जुड़े विषयों पर भी विचार-विमर्श किया गया। बैठक में बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूल पहली जुलाई खोलने के फैसले पर सहमति जताई गई।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते राज्य के विश्वविद्यालयों की परीक्षा रद्द ह सकती है। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ के कुलपति प्रो. एनके तनेजा की अध्यक्षता में गठित चार सदस्यीय कमेटी ने राज्य विश्वविद्यालयों की प्रस्तावित परीक्षाएं निरस्त करने की सिफारिश की है। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि कमेटी की रिपोर्ट पर दो जुलाई को फैसला लिया जाएगा,, हालांकि पहली जुलाई को केंद्र सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय की गाइड लाइन जारी होने वाली है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार को उनके सरकारी आवास पर हुई बैठक में भी इस मुद्दे पर विचार किया गया। इस बैठक में उच्च शिक्षा के साथ-साथ बेसिक शिक्षा व माध्यमिक शिक्षा से जुड़े विषयों पर भी विचार-विमर्श किया गया। बैठक में बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूल पहली जुलाई खोलने के फैसले पर सहमति जताई गई।