1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Unnao Murder: युवती की हत्या पर बरसीं प्रियंका गांधी, कहा-योगी जी आप भाषणों में कानून व्यवस्था की बात करना छोड़ दिजिए

Unnao Murder: युवती की हत्या पर बरसीं प्रियंका गांधी, कहा-योगी जी आप भाषणों में कानून व्यवस्था की बात करना छोड़ दिजिए

उन्नाव में दलित युवती की निर्मम हत्या के बाद प्रदेश में सियासी पारा बढ़ता जा रहा है। भाजपा इस मुद्दे को लेकर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) को घेरने में जुटी हुई है। दरअसल, इस हत्याकांड का मुख्य आरोपी सपा के पूर्व मंत्री का बेटा है। इस मामले में पुलिस की भी लापरवाही सामने आई है। पीड़िता की मां ​दो महीनों से भटकती रही लेकिन पुलिस ने उसकी सुनवाई नहीं की। मृतका की मां का आरोप है कि पुलिस समय प चेत जाती तो ये वारदात नहीं होती।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Unnao Murder: उन्नाव में दलित युवती की निर्मम हत्या के बाद प्रदेश में सियासी पारा बढ़ता जा रहा है। भाजपा इस मुद्दे को लेकर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) को घेरने में जुटी हुई है। दरअसल, इस हत्याकांड का मुख्य आरोपी सपा के पूर्व मंत्री का बेटा है। इस मामले में पुलिस की भी लापरवाही सामने आई है। पीड़िता की मां ​दो महीनों से भटकती रही लेकिन पुलिस ने उसकी सुनवाई नहीं की। मृतका की मां का आरोप है कि पुलिस समय प चेत जाती तो ये वारदात नहीं होती।

पढ़ें :- बीजेपी वाले सूची जारी करें जो ‘अग्निवीर योजना ’ में अपने बच्चों को भेज रहें हैं : अखिलेश यादव

वहीं, इस हत्याकांड को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी  (Priyanka Gandhi) ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि, उन्नाव में जो घटा वो उत्तरप्रदेश में नया नहीं है। एक दलित लड़की की मां अपनी बेटी का पता लगाने के लिए दफ्तरों के चक्कर काटती रही, अंत में उसको अपनी बेटी का शव मिला। प्रशासन ने उसकी एक नहीं सुनी।

भाजपा को इस मुद्दे पर राजनीति करने की बजाय जवाब देना चाहिए कि प्रशासन क्यों उस मां को जनवरी से दौड़ाता रहा? किसने इस बिटिया की मां की गुहार नहीं सुनी? साथ ही प्रियंका ने कहा है कि, सीएम योगी आदित्यनाथ जी आप अपने भाषणों में कानून व्यवस्था की बात करना छोड़ दीजिए।

पढ़ें :- अखिलेश का केंद्र पर बड़ा अटैक, बोले-सरकार का चतुर्दिक विरोध दर्शा रहा है कि बीजेपी ने जनाधार खोया

आपके प्रशासन में महिलाओं को न्याय के लिए दर-दर भटकना पड़ता है, महिलाओं पर अत्याचार होने पर उनकी आवाज सुनी ही नहीं जाती। महिलाओं पर अत्याचार कर उनकी हत्या कर दी जाती है और आप झूठे दावों में व्यस्त रहते हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...