यहां पर अब भी लिये जा रहे 500-1000 रुपये के नोट

लखनऊ। बड़ी नोटों के बंद होने के बाद लोगों को हो रही दिक्कतों को देखते हुए उत्तर प्रदेश के बिजली विभाग ने पुराने 500 और 1000 रुपये के नोटों को स्वीकार करने का निर्णय लिया है। अब उपभेक्ता बिजली विभाग में पुराने नोटों से बिजली बिल चुका सकते हैं। ऊर्जा व औद्योगिक विकास विभाग के प्रमुख सचिव संजय अग्रवाल के अनुरोध को भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने स्वीकार करते हुए इसकी अनुमति दी है।




प्रबंध निदेशक ए.पी. मिश्रा ने बताया कि अग्रवाल ने वित्त मंत्रालय से अनुरोध किया था कि प्रदेश के उपभोक्ताओं एवं विभाग के नुकसान को देखते हुए पुराने 500 एवं 1000 रुपये के नोटों को जमा करने की अनुमति दे, जिसे गुरुवार को वित्त विभाग ने स्वीकार कर लिया।

यह सूचना अग्रवाल को उस समय मिली, जब वह वीडियो कान्फ्रेंसिंग कर रहे थे। उन्होंने तत्काल कान्फ्रेंसिंग खत्म करने की घोषणा की और गांवों तक कलेक्शन सेंटर खोलकर बिल जमा कराने के निर्देश दिए।



Loading...