1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी : अलकायदा के तीनों संदिग्ध आतंकी 29 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजे गए

यूपी : अलकायदा के तीनों संदिग्ध आतंकी 29 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजे गए

यूपी में बीते बुधवार को पकड़े गए तीनों संदिग्ध अलकायदा आतंकियों को 29 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। इन तीनों की पहचान मोहम्मद मुस्तकीम, मोहम्मद मुईद और मोहम्मद शकील के तौर पर हुई है। ये तीनों लखनऊ के रहने वाले हैं। यूपी एसटीएस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया है। अब तक इस मामले में कुल 5 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं। पांचों से पूछताछ की जा रही है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी में बीते बुधवार को पकड़े गए तीनों संदिग्ध अलकायदा आतंकियों को 29 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। इन तीनों की पहचान मोहम्मद मुस्तकीम, मोहम्मद मुईद और मोहम्मद शकील के तौर पर हुई है। ये तीनों लखनऊ के रहने वाले हैं। यूपी एसटीएस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया है। अब तक इस मामले में कुल 5 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं। पांचों से पूछताछ की जा रही है।

पढ़ें :- मायावती ने अखिलेश पर बोला हमला, कहा-राजनीतिक स्वार्थ व सस्ती लोकप्रियता के लिए कर रहे नाटकबाजी

एटीएस के आईजी जीके गोस्वामी के मुताबिक तीनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। आज ये तीनों मददगार जेल भेज दिए गए हैं। एटीएस ने गिरफ्तार शकील, मुस्तकीम और मोहम्मद मुईद को कोर्ट में पेश किया। एटीएस स्पेशल कोर्ट ने तीनों को 29 जुलाई तक ज्यूडिशियल कस्टडी में जेल भेज दिया है। एटीएस ने तीनों को कस्टडी रिमांड पर लेने की अर्ज़ी भी दी है। जानकारी के अनुसार कोर्ट में कस्टडी रिमांड की अर्ज़ी पर शुक्रवार को सुनवाई होगी।

एटीएस के आईजी जीके गोस्वामी के मुताबिक एटीएस ने कंस्ट्रक्शन ठेकेदार मोहम्मद मुस्तकीम को गिरफ्तार किया है। मूल रूप से मुज़फ्फरनगर का रहने वाला मुस्तकीम मुस्लिम इलाकों में छोटे-छोटे घर बनाने का ठेका लेता है। पिछले 10 साल से लखनऊ के मदेयगंज इलाके में रहता है। वहीं मुस्तकीम को कंस्ट्रक्शन मैटीरियल सप्लाई करने वाले न्यू हैदरगंज, कैम्पबेल रोड निवासी मोहम्मद मुईद को भी गिरफ्तार किया गया है। इनके अलावा वजीरगंज इलाके से ई-रिक्शा चालक शकील को गिरफ्तार किया गया है।

एटीएस आईजी के मुताबिक मुस्तकीम पहले गिरफ्तार मुशीर के एक परिवारीजन का मकान बनवा रहा था। मकान बनवाते समय मुस्तकीम और मुशीर में दोस्ती हुई। मुस्तकीम ने मोहम्मद मुकीद के जरिए मुशीर को पिस्टल दिलाई थी। 40 हज़ार रुपये में मुशीर को पिस्टल बेची थी। वहीं शकील ने मिन्हाज़ को कानपुर के लईक और आफाक से मिलवाया था।

लईक और आफाक ने मिन्हाज़ को असलहा, बारूद, सिमकार्ड दिलाए। एटीएस के आईजी जीके गोस्वामी ने बताया कि आज गिरफ्तार तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश कर कस्टडी रिमांड पर लेने की अर्ज़ी दी जा रही है।

पढ़ें :- जितेन्द्र सिंह को पार्टी ज्वॉइन कराकर जानें बीजेपी नेतृत्व ने प्रयागराज से सांसद रीता बहुगुणा जोशी को क्या दिया संदेश?

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...