SC/ST एक्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट के फैसले से आहत ASP ने दिया इस्तीफा, राष्ट्रपति को भेजा पत्र

asp bp ashok
SC/ST एक्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट के फैसले से आहत ASP ने दिया इस्तीफा, राष्ट्रपति को भेजा पत्र

लखनऊ। पूरे देश में एससी-एसटी एक्ट को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है। इसी बीच उत्तर प्रदेश में एक अपर पुलिस अधीक्षक ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से आहत होकर अपने पद से त्यागपत्र दे दिया है। एएसपी बीपी अशोक ने अपने पत्र में लिखा है कि एससी-एसटी एक्ट को कमजोर किया जा रहा है। उन्होंने संसदीय लोकतंत्र को बचाए जाने की भी अपील की है। साथ ही जाति के खिलाफ स्पष्ट कानून बनाने की भी मांग की है।
उत्तर प्रदेश पुलिस के प्रशिक्षण निदेशालय में तैनात अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) बीपी अशोक ने सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दिया है। एएसपी ने राष्ट्रपति, राज्यपाल और उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को भेजे अपने पत्र में कुल 7 मांगों का जिक्र किया है। इसके साथ ही एएसपी ने इस पत्र में यह आग्रह किया है कि सरकार या तो प्रदर्शन कर रहे लोगों की बात मान ले या फिर उनके त्यागपत्र को स्वीकार कर ले।

{ यह भी पढ़ें:- पासपोर्ट वेरिफिकेशन के बाद दारोगा ने महिला से कर दी ऐसी डिमांड }

लखनऊ। पूरे देश में एससी-एसटी एक्ट को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है। इसी बीच उत्तर प्रदेश में एक अपर पुलिस अधीक्षक ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से आहत होकर अपने पद से त्यागपत्र दे दिया है। एएसपी बीपी अशोक ने अपने पत्र में लिखा है कि एससी-एसटी एक्ट को कमजोर किया जा रहा है। उन्होंने संसदीय लोकतंत्र को बचाए जाने की भी अपील की है। साथ ही जाति के खिलाफ स्पष्ट कानून बनाने की भी मांग की है। उत्तर…
Loading...