यूपी: सीएम योगी बोले- तबलीगी जमात में गए लोगों की जल्द करें तलाश, लखनऊ में छह पकड़े गए

CM YOGI
प्राइवेट स्कूलों की याचिका पर हाईकोर्ट ने सरकार से 3 हफ्तों में मांगा जवाब, जानें मामला

लखनऊ। मुख्यमंत्री योदी आदित्यनाथ ने मंगलवार को तबलीगी जमात के संक्रमण के मद्देनजर साफ कहा है कि पूरे प्रदेश में लॉकडाउन का कड़ाई से पालन हो। इसमें किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि तबलीगी जमात से जुड़े हुए लोगों की तेजी से तलाश की जाए, वे जहां मिले उन्हें तत्काल क्वारंटाइन किया जाए। वह मंगलवार को आगरा व मेरठ का दौरा रद्द करने के बाद अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे।

Up Cm Yogi Said Search For People Who Have Gone To Tabligi Jamaat Six Caught In Lucknow :

देश भर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज की खबर ने हड़कंप मचा दी है। मंगलवार दोपहर लखनऊ के कैसरबाग में मरकजी मस्जिद पहुंचे पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने छह लोगों को गिरफ्तार किया जो निजामुद्दीन मरकज में शामिल होकर लौटे हैं। वहीं प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या सौ से भी ज्यादा हो गई है।

इसके साथ ही यूपी के संभल जिले में स्वास्थ्य विभाग को इनपुट मिला है कि दिल्ली की जिस तबलीगी जमात में बड़ी संख्या में लोग कोरोना आशंकित मिले हैं उसमें 20 लोग संभल के भी शामिल थे। इसके बाद जिले भर के चिकित्साधिकारी और स्वास्थ्य कर्मियों को इन्हें ट्रैक करने के लिए सक्रिय किया गया है। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अमिता सिंह ने बताया कि हम सतर्क हैं और जल्दी ही उन लोगों को तलाश लिया जाएगा।

इंटेलिजेंस के इनपुट पर मेरठ पुलिस ने 14 जमाती पकड़े हैं। ये जमाती देहात क्षेत्र के कांशी में एक मौलाना के घर पर ठहरे हुए थे। ये सभी नेपाल, महाराष्ट्र व बिहार के निवासी हैं। पुलिस के सूत्रों के मुताबिक निजामुद्दीन मरकज से छह विदेशी नागरिक लखनऊ के अमीनाबाद के मरकज में प्रचार-प्रसार करने गए थे। सभी विदेशी कजाकिस्तान के हैं।

लखनऊ। मुख्यमंत्री योदी आदित्यनाथ ने मंगलवार को तबलीगी जमात के संक्रमण के मद्देनजर साफ कहा है कि पूरे प्रदेश में लॉकडाउन का कड़ाई से पालन हो। इसमें किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि तबलीगी जमात से जुड़े हुए लोगों की तेजी से तलाश की जाए, वे जहां मिले उन्हें तत्काल क्वारंटाइन किया जाए। वह मंगलवार को आगरा व मेरठ का दौरा रद्द करने के बाद अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। देश भर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज की खबर ने हड़कंप मचा दी है। मंगलवार दोपहर लखनऊ के कैसरबाग में मरकजी मस्जिद पहुंचे पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने छह लोगों को गिरफ्तार किया जो निजामुद्दीन मरकज में शामिल होकर लौटे हैं। वहीं प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या सौ से भी ज्यादा हो गई है। इसके साथ ही यूपी के संभल जिले में स्वास्थ्य विभाग को इनपुट मिला है कि दिल्ली की जिस तबलीगी जमात में बड़ी संख्या में लोग कोरोना आशंकित मिले हैं उसमें 20 लोग संभल के भी शामिल थे। इसके बाद जिले भर के चिकित्साधिकारी और स्वास्थ्य कर्मियों को इन्हें ट्रैक करने के लिए सक्रिय किया गया है। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अमिता सिंह ने बताया कि हम सतर्क हैं और जल्दी ही उन लोगों को तलाश लिया जाएगा। इंटेलिजेंस के इनपुट पर मेरठ पुलिस ने 14 जमाती पकड़े हैं। ये जमाती देहात क्षेत्र के कांशी में एक मौलाना के घर पर ठहरे हुए थे। ये सभी नेपाल, महाराष्ट्र व बिहार के निवासी हैं। पुलिस के सूत्रों के मुताबिक निजामुद्दीन मरकज से छह विदेशी नागरिक लखनऊ के अमीनाबाद के मरकज में प्रचार-प्रसार करने गए थे। सभी विदेशी कजाकिस्तान के हैं।