1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP Election 2022: पंजाब में यूपी बिहार के लोगो को लेकर की गई टिप्पणी पर भाजपा और बसपा ने कांग्रेस को घेरा, अखिलेश रहे चुप

UP Election 2022: पंजाब में यूपी बिहार के लोगो को लेकर की गई टिप्पणी पर भाजपा और बसपा ने कांग्रेस को घेरा, अखिलेश रहे चुप

पंजाब में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम चन्नी के द्वारा यूपी और बिहार के लोगो को राज्य से बाहर करने की बात पर राजनीति गरमाती जा रही है। इस दौरान उनके बगल में खड़ी रही कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने विपक्षी पार्टियों को कांग्रेस को घेरने का मौका दे दिया है।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

लखनऊ। पंजाब में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम चन्नी के द्वारा यूपी और बिहार के लोगो को राज्य से बाहर करने की बात पर राजनीति गरमाती जा रही है। इस दौरान उनके बगल में खड़ी रही कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने विपक्षी पार्टियों को कांग्रेस को घेरने का मौका दे दिया है। उनके इस बयान पर यूपी की दो प्रमुख पार्टियां बसपा और भाजपा ने उन पर जबरदस्त ​हमला बोला है।

पढ़ें :- Free Scooty Yojana 2022 : योगी सरकार लड़कियों को जल्द देगी मुफ्त स्कूटी, यहां जानें सब कुछ

लेकिन समाजवादी पार्टी का इस मामले में कोई प्रतिक्रिया न आना अलग ही कहानी बयां कर रहा है। बता दें कि यूपी भाजपा के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि ”यह कांग्रेस का संस्कार है, कांग्रेस ने देश को इतने जख्म दिए, जातिवाद का, क्षेत्रवाद का, भाषावाद, आतंकवाद का, नक्सलवाद का, इसलिए देश कांग्रेस को बार-बार ठुकरा रहा है।

आज संत रविदास जी की जंयती है चन्नी जी खुद काशी आए थे, कम से कम सदगुरु के उपदेशों से कुछ प्रेरणा ले लेते तो संभवत: कुछ भला हो गया होता। वहीं बसपा प्रमुख मायावती ने भी कांग्रेस को घेरते हुए ट्वीट किया कि ”पंजाब के कांग्रेसी सीएम ने शीर्ष नेतृत्व की मौजूदगी में यूपी व बिहार के लोगों का जिस प्रकार से अपमान किया है वह अति शर्मनाक।

ऐसे में इन दोनों राज्यों के लोग कांग्रेस को पंजाब व यूपी में भी हो रहे विधानसभा आमचुनाव में जरूर सबक सिखाएं। बिहार के लोग भी इसका जरूर उचित संज्ञान लें।’यूपी बिहार को लेकर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी पर अखिलेश यादव की चुप्पी सबको हैरान कर रही है।

हालांकि, राजनीतिक जानकारों का मानना है कि अखिलेश यादव चुनाव दोस्ती की गुंजाइश को बरकरार रखते हुए फिलहाल कुछ बोलने से इनकार कर रहे हैं। प्रियंका गांधी साफ कर चुकी हैं कि चुनाव के बाद जरूरत पड़ी तो उनकी पार्टी अखिलेश का समर्थन कर सकती है।

पढ़ें :- Yogi के तंज पर अजय कुमार लल्लू का पलटवार, बोले- मेरा राजनीति में कोई 'मामा' नहीं रहा...

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...