1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP Election 2022: जेपी नड्डा का अखिलेश पर निशाना, बोले-हम गन्ना की बात करते हैं तो उनके मुंह से जिन्ना निकलता है

UP Election 2022: जेपी नड्डा का अखिलेश पर निशाना, बोले-हम गन्ना की बात करते हैं तो उनके मुंह से जिन्ना निकलता है

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) को लेकर भाजपा (BJP) बूथ को मजूबत करने में जुट गई है। इसी क्रम में भाजपा अध्यक्ष एटा पहुंचे थे। यहां पर उन्होंने भाजपा (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने एटा में ब्रज की चुनावी रणनीति से बूथ अध्यक्षों को रूबरू कराया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) को लेकर भाजपा (BJP) बूथ को मजूबत करने में जुट गई है। इसी क्रम में भाजपा अध्यक्ष एटा पहुंचे थे। यहां पर उन्होंने भाजपा (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने एटा में ब्रज की चुनावी रणनीति से बूथ अध्यक्षों को रूबरू कराया। जेपी नड्डा (JP Nadda) ने अपने संबोधन में कहा कि, ये जो जन सैलाब उमड़ा है वो जनसभा नहीं है बल्कि कार्यकर्ता सम्मेलन है। यही वजह है कि जब दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी कार्यकर्ता सम्मेलन करती है तो वह जनसभा बन जाती है।

पढ़ें :- नौतनवा के आक्रोशित युवाओं ने स्वामी प्रसाद मौर्य का फूंका पुतला

उन्होंने कहा कि, योगी सरकार (Yogi Sarkar) में प्रदेश में जो काम हुआ है उसी वजह से दुनिया कहती है कि फर्क साफ है, जब सोच ईमानदार होती है तो काम भी दमदार होता है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि, आज जो हमारे सामने बूथ अध्यक्ष के रूप में खड़े हैं वो कल प्रदेश का नेतृत्व करने की क्षमता रखते हैं। अगर ऐसा संभव होता है तो वह सिर्फ भारतीय जनता पार्टी में ही संभव है।

योगी जी के नेतृत्व में जो काम हुआ है, वो फर्क साफ है। ये फर्क हमें इसलिए दिखता है क्योंकि ईमानदारी से काम करने का काम भाजपा नेतृत्व ने किया है। वहीं कार्यकर्ताओं ने अपनी जान की परवाह किए बिना कोरोना काल में भी काम किया है। इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, सभी पार्टियां वंशवाद साथ जुड़ी हैं, वोटबैंक के लिए काम कर रही हैं, धर्म को धर्म से बांटकर काम कर रही है।

एक-एक पार्टी ऊपर से नीचे तक वंशवाद तक डूबी हुई है। बंगाल, राजस्थान, तेलंगाना सभी क्षेत्रीय पार्टियां वंशवाद पर हैं। हाल तो यह है कि कोई जिन्ना के नाम पर जीता है तो परिवारवाद के नाम पर पार्टी खड़ी करता है। लेकिन हमारी पार्टी सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास करने वाली पार्टी है।

साथ ही कहा कि, बहुत लोगों ने किसान होने और किसान नेता होने का दावा किया लेकिन किसानों का भला अगर किसी ने किया तो वो मोदी जी ने किया और उनकी सरकार ने किया। वहीं, इस दौरान जेपी नड्डा (JP Nadda) ने अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) का नाम लिए बिना उन पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, जब हम गन्ना की बात करते हैं तो उनके मुंह से जिन्ना निकलता है। मुझे उन लोगों से उन पार्टियों से खतरा दिखता है जो वोट की खातिर, कुर्सी की खातिर सरदार पटेल लौह पुरुष से मुकाबला करने के लिए जिन्ना का जिन्न निकाल रहे हैं।

पढ़ें :- Union Budget 2023: पीएम मोदी बोले-बजट विकसित भारत के विराट संकल्प को पूरा करने के लिए एक मजबूत नींव का निर्माण करेगा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...