1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP Elections 2022 : BSP के ‘लो-प्रोफाइल चुनावी अभियान’ पर प्रियंका हैरान, कहीं BJP तो नहीं है दबाव

UP Elections 2022 : BSP के ‘लो-प्रोफाइल चुनावी अभियान’ पर प्रियंका हैरान, कहीं BJP तो नहीं है दबाव

कांग्रेस महासचिव (Congress General Secretary) प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने अपने अंदाज में मायावती पर बड़ा हमला बोला है। यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections 2022) में बसपा (BSP) के "लो-प्रोफाइल चुनावी अभियान" पर "आश्चर्य" व्यक्त किया है। साथ ही कहा कि यूपी में चुनावों के बीच भी बसपा शांत रहना संदेश पैदा करता है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव (Congress General Secretary) प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने अपने अंदाज में मायावती पर बड़ा हमला बोला है। यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections 2022) में बसपा (BSP) के “लो-प्रोफाइल चुनावी अभियान” पर “आश्चर्य” व्यक्त किया है। साथ ही कहा कि यूपी में चुनावों के बीच भी बसपा शांत रहना संदेश पैदा करता है।

पढ़ें :- Lakhimpur violence : प्रियंका गांधी बोलीं- मंत्री का धमकी वाला भाषण, लखीमपुर किसान नरसंहार का था सबसे अहम पहलू

बसपा प्रमुख मायावती चुनावों में अपने सामान्य अंदाज में प्रचार नहीं करने व चुप्पी श्रीमती गांधी ने कहा कि वह हैरान हैं। एक साक्षात्कार में गांधी ने कहा कि छह-सात महीने पहले हम सोचते थे कि उनकी पार्टी सक्रिय नहीं है। शायद वे यूपी चुनाव के करीब शुरू हो जाएं लेकिन अब हम भी बहुत हैरान हैं कि चुनाव शुरू हो चुका है। हम चुनावों के बीच में हैं। इसके बावजूद वह सक्रिय नहीं हैं।

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि यह संभव है कि भाजपा सरकार उन पर दबाव बना रही हो। प्रियंका गांधी ने कहा कि उन्होंने असम और गोवा में प्रचार किया है लेकिन यूपी में शांत हैं।उन्होंने कहा कि जहां भी मेरी पार्टी मुझसे प्रचार करने को कहती है। मैं वहां-वहां चुनाव प्रचार करती हूं। यूपी में कांग्रेस की गठबंधन वार्ता सफल नहीं रही। क्या अन्य राज्यों में अपने दम पर ही चुनाव लड़ना कांग्रेस का मॉडल होगा? प्रियंका गांधी ने कहा कि चुनाव पूर्व गठबंधन या अपने दम पर चुनाव लड़ना कांग्रेस के लिए एक “डायनमिक पॉलिसी” होगी।

उन्होंने कहा कि मैं यूपी के लिए बोल सकती हूं। हमने यूपी में अतीत में गठबंधन के साथ प्रयोग किया है। हमने 2017 में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन किया था। इससे पहले, हमने बसपा के साथ गठबंधन किया था। इसलिए उत्तर प्रदेश में, हमारे पास यही रास्ता है, जिसे हमने चुना है। मैं अन्य राज्यों के बारे में नहीं बोल सकती कि क्या कांग्रेस पार्टी इस रास्ते पर चलेगी। मुझे लगता है कि इस बारे में पार्टी की एक गतिशील नीति है और यह निर्णय उसी आधार पर होगा। यूपी में 7 चरणों में मतदान 10 फरवरी से शुरू होंगे और नतीजे 10 मार्च को घोषित किए जाएंगे।

पढ़ें :- माया का सपा प्रमुख पर सनसनीखेज आरोप, बोलीं-अखिलेश भाग सकते हैं विदेश
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...