UP: पहले इंजीनियरों को दिया गाय-बैल पकड़वाने का आदेश, फजीहत हुई तो वापस​ ले लिया

yogi
UP: पहले इंजीनियरों को दिया गाय-बैल पकड़वाने का आदेश, फजीहत हुई तो वापस​ ले लिया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अक्सर रैलियों के दौरान खुले जानवरों की वजह से बाधाएं उत्पन्न होती रहती है। इस समय उत्तर प्रदेश के 27 जिलों में गंगा यात्रा चल रही है और इसी यात्रा के तहत 29 को सीएम योगी आदित्यनाथ मिर्जापुर जा रहे हैं। इसी के चलते मिर्जापुर के जिलाधिकारी ने सीएम की यात्रा के दौरान कई इंजीनियर्स तैनात किये है, जिनका काम होगा कि मुख्यमंत्री की यात्रा के दौरान उनके रास्ते में कोई गाय या सांड न आ जाए। हालांकि इस आदेश पर जब इंजीनियर एसोसिएशन ने ऐतराज किया तो आदेश वापस ले लिया गया।

Up First Engineers Ordered To Get Cow And Bull Withdrawn If Troubled :

जहां एक तरफ सीएम योगी आदित्यनाथ अपने गो-प्रेम के लिए हमेशा चर्चा में रहते हैं वहीं उन्ही के कार्यक्रम में गाय और सांड़ पकड़ने का आदेश दिया जाना कई सवाल खड़ा करता है। मिर्जापुर में इसके लिए काफी खास इंतजाम किए गये हैं। सीएम 29 जनवरी को मिर्जापुर जाएंगे और 31 जनवरी को यात्रा का समापन कानपुर में होगा। आपको बता दें कि इसके लिए पीडब्ल्यूडी जूनियर इंजीनियर्स की तैनाती की गई थी।

आदेश में कहा गया था कि मिर्जापुर के अलग-अलग स्थानों पर 9 इंजीनियर्स मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की यात्रा के दौरान हाथों में रस्सी लेकर तैनात रहेंगे। वहीं इस संबंध में मिर्जापुर के इंजीनियर एसोसिएशन ने पीडब्ल्यूडी विभाग को पत्र लिखकर ऐतराज जताया है। कहा है कि उनके इंजीनियर पशुओं को पकड़ने में आदी नहीं है और अगर किसी भी कर्मचारी को चोट लगती है तो उसकी जिम्मेदारी इंजीनियर एसोसिएशन की नहीं होगी। बेहतर होगा कि प्रशासन किसी दूसरे एजेंसी से इस काम को करवाये।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अक्सर रैलियों के दौरान खुले जानवरों की वजह से बाधाएं उत्पन्न होती रहती है। इस समय उत्तर प्रदेश के 27 जिलों में गंगा यात्रा चल रही है और इसी यात्रा के तहत 29 को सीएम योगी आदित्यनाथ मिर्जापुर जा रहे हैं। इसी के चलते मिर्जापुर के जिलाधिकारी ने सीएम की यात्रा के दौरान कई इंजीनियर्स तैनात किये है, जिनका काम होगा कि मुख्यमंत्री की यात्रा के दौरान उनके रास्ते में कोई गाय या सांड न आ जाए। हालांकि इस आदेश पर जब इंजीनियर एसोसिएशन ने ऐतराज किया तो आदेश वापस ले लिया गया। जहां एक तरफ सीएम योगी आदित्यनाथ अपने गो-प्रेम के लिए हमेशा चर्चा में रहते हैं वहीं उन्ही के कार्यक्रम में गाय और सांड़ पकड़ने का आदेश दिया जाना कई सवाल खड़ा करता है। मिर्जापुर में इसके लिए काफी खास इंतजाम किए गये हैं। सीएम 29 जनवरी को मिर्जापुर जाएंगे और 31 जनवरी को यात्रा का समापन कानपुर में होगा। आपको बता दें कि इसके लिए पीडब्ल्यूडी जूनियर इंजीनियर्स की तैनाती की गई थी। आदेश में कहा गया था कि मिर्जापुर के अलग-अलग स्थानों पर 9 इंजीनियर्स मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की यात्रा के दौरान हाथों में रस्सी लेकर तैनात रहेंगे। वहीं इस संबंध में मिर्जापुर के इंजीनियर एसोसिएशन ने पीडब्ल्यूडी विभाग को पत्र लिखकर ऐतराज जताया है। कहा है कि उनके इंजीनियर पशुओं को पकड़ने में आदी नहीं है और अगर किसी भी कर्मचारी को चोट लगती है तो उसकी जिम्मेदारी इंजीनियर एसोसिएशन की नहीं होगी। बेहतर होगा कि प्रशासन किसी दूसरे एजेंसी से इस काम को करवाये।