दरिंदगी की शिकार पीड़िता ने कहा, ‘अब मैं जल चुकी हूं, कम से कम मेरा रेप तो नहीं करेंगे’

rape-hapud
दरिंदगी की शिकार पीड़िता ने कहा, 'अब मैं जल चुकी हूं, कम से कम मेरा रेप तो नहीं करेंगे'

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के हापुड़ से एक ऐसा दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, जिसे सुनकर आपकी रूह कांप उठेगी। इस घटना ने एक तरफ पिता-पुत्री के रिश्ते को कलंकित किया, वहीं दूसरी तरफ समाज में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एक बड़ा प्रश्न चिन्ह भी लगा दिया। दरअसल, हापुड़ की रहने वाली एक 14 वर्षीय किशोरी को उसके पिता और बुआ ने मिलकर एक अधेड़ के हाथ बेंच दिया। जिसके बाद उसके साथ 16 लोगों ने लगातार बलात्कार किया। दरिंदगी से आहत लड़की ने खुद को खत्म करने के लिए आग लगा ली। गंभीर हालत में उसे हापुड़ एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिसके बाद उसे दिल्ली ले आया गया। हालांकि अभी भी पीड़िता की हालत चिंताजनक बनी हुई है। वहीं, पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेते हुए मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Up Girl Assaulted 16 Times :

मिली जानकारी के मुताबिक, साल 2009 में 14 साल की उम्र में लड़की के पिता ने उसकी शादी एक अधेड़ से कर दी। शादी के बाद पीड़िता को पता चला कि उसे बुआ और पिता ने बेचा है। जिसके बाद 16 लोगों ने उससे दुराचार किया। दुष्कर्मियों ने इसके बाद भी पीछा नहीं छोड़ा। तेजाब डालने और हत्या की धमकियां देने लगे तो आजिज पीड़िता ने जिंदगी ही खत्म करने का प्रयास किया। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने 16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पीड़िता का दिल्ली के अस्पताल में उपचार जारी है।

अस्पताल में भर्ती पीड़िता का कहना है, “काश कि मैं मर जाती। कोई भी इस तरह के जख्मों को नहीं झेलना चाहता। लेकिन, अब जबकि मैं जल चुकी हूं, तो लोग कम से कम मेरा रेप तो नहीं करेंगे।” पीड़िता का कहना है कि उसका पति व्यवहार में एक राक्षस की तरह था। उसने बार-बार अपने दोस्तों से उसका दुष्कर्म करवाया। युवती की मानें तो 20 से ज्यादा पुरुषों ने उसके साथ जबरदस्ती संबंध बनाए।

अपने साथ हुई दरिंदगी से क्षुब्द पीड़िता ने रविवार को खुद को आग के हवाले कर लिया। उपचार के दौरान पीड़िता ने इंसाफ की बात करते हुए एक वीडियो बनाकर वायरल किया। इसके बाद पुलिस हरकत में आई। 15 नामजद समेत 16 आरोपितों पर मुकदमा दर्ज किया है।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के हापुड़ से एक ऐसा दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, जिसे सुनकर आपकी रूह कांप उठेगी। इस घटना ने एक तरफ पिता-पुत्री के रिश्ते को कलंकित किया, वहीं दूसरी तरफ समाज में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एक बड़ा प्रश्न चिन्ह भी लगा दिया। दरअसल, हापुड़ की रहने वाली एक 14 वर्षीय किशोरी को उसके पिता और बुआ ने मिलकर एक अधेड़ के हाथ बेंच दिया। जिसके बाद उसके साथ 16 लोगों ने लगातार बलात्कार किया। दरिंदगी से आहत लड़की ने खुद को खत्म करने के लिए आग लगा ली। गंभीर हालत में उसे हापुड़ एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिसके बाद उसे दिल्ली ले आया गया। हालांकि अभी भी पीड़िता की हालत चिंताजनक बनी हुई है। वहीं, पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेते हुए मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मिली जानकारी के मुताबिक, साल 2009 में 14 साल की उम्र में लड़की के पिता ने उसकी शादी एक अधेड़ से कर दी। शादी के बाद पीड़िता को पता चला कि उसे बुआ और पिता ने बेचा है। जिसके बाद 16 लोगों ने उससे दुराचार किया। दुष्कर्मियों ने इसके बाद भी पीछा नहीं छोड़ा। तेजाब डालने और हत्या की धमकियां देने लगे तो आजिज पीड़िता ने जिंदगी ही खत्म करने का प्रयास किया। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने 16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पीड़िता का दिल्ली के अस्पताल में उपचार जारी है। अस्पताल में भर्ती पीड़िता का कहना है, "काश कि मैं मर जाती। कोई भी इस तरह के जख्मों को नहीं झेलना चाहता। लेकिन, अब जबकि मैं जल चुकी हूं, तो लोग कम से कम मेरा रेप तो नहीं करेंगे।" पीड़िता का कहना है कि उसका पति व्यवहार में एक राक्षस की तरह था। उसने बार-बार अपने दोस्तों से उसका दुष्कर्म करवाया। युवती की मानें तो 20 से ज्यादा पुरुषों ने उसके साथ जबरदस्ती संबंध बनाए। अपने साथ हुई दरिंदगी से क्षुब्द पीड़िता ने रविवार को खुद को आग के हवाले कर लिया। उपचार के दौरान पीड़िता ने इंसाफ की बात करते हुए एक वीडियो बनाकर वायरल किया। इसके बाद पुलिस हरकत में आई। 15 नामजद समेत 16 आरोपितों पर मुकदमा दर्ज किया है।