1. हिन्दी समाचार
  2. यूपी सरकार ने जिलों के DM से पूछा, कितने ब्राह्मणों के पास है शस्त्र लाइसेंस? बाद में खींचे कदम

यूपी सरकार ने जिलों के DM से पूछा, कितने ब्राह्मणों के पास है शस्त्र लाइसेंस? बाद में खींचे कदम

Up Government Asked Dms Of Districts How Many Brahmins Have Arms License Later Steps

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों को लुभाने के लिए सभी पार्टियां अपने अपने स्तर पर काम करने में जुट गईं हैं। यूपी की योगी सरकार ने भी इसको लेकर कई दांव चले हैं। योगी सरकार ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों को एक पत्र भेजकर पूछा था कि कितने ब्राह्मणों के पास आर्म्‍स लाइसेंस हैं और कितने लोगों ने आवेदन किया है।

पढ़ें :- इस काम के लिए आज है आखिरी दिन, समय रहते कर लें नहीं पछतायेंगे

सरकार के आदेश के बाद यह जानकारी 21 अगस्त तक मुहैया करवानी थी लेकिन इसके यूपी सरकार ने अपने इस निर्देश से पीछे हट गयी है। दरअसल, विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान सुल्तानपुर के लम्भुआ से बीजेपी विधायक देवमणि द्विवेदी ने ही एक सवाल पूछा था कि प्रदेश में पिछले तीन वर्षों में कितने ब्राह्मणों की हत्या हुई, कितने असुरक्षित महसूस कर रहे हैं और कितनों के पास शास्त्र लाइसेंस है?

इसके बाद प्रदेश सरकार की तरफ से एक पत्र सभी जिलाधिकारियों को भेजकर पूरा विवरण मांगा गया था। राज्य के अवर सचिव (गृह विभाग) प्रकाश चंद्र अग्रवाल द्वारा हस्ताक्षरित यह पत्र 18 अगस्त को जारी किया गया था। इसमें 21 अगस्त तक सभी जिलों से जानकारी मांगी गई थी।

वहीं, बताया जा रहा है कि सरकार ने इस जानकारी पर रोक लगा दी है। अंग्रेजी अखबार में छपी हुई जानकारी के मुताबिक, एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सरकार अब इस मुद्दे से पीछे हट गयी है। अब इस विवरण पर आगे नहीं बढ़ा जा रहा है। जानकारी के अनुसार, एक जिले से ब्राह्मणों के पास हथियार लाइसेंस से जुड़ा आंकड़ा भेज भी दिया गया है।

पढ़ें :- लाइव संसद सत्र के दौरान सांसद ने प्रेमिका के प्राइवेट पार्ट पर किया Kiss, पार्टी ने लिया इस्तीफा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...