यूपी सरकार ने कहा-16 से 31 जुलाई तक नहीं लागू होगा लॉकडाउन, पूर्व आदेश ही रहेंगे लागू

cm yogi
कोरोना वायरस: यूपी बना एक लाख से ज्यादा सैंपल टेस्ट करने वाला पहला राज्य

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए योगी सरकार ने हफ्ते में दो दिन बंदी का ऐलान किया है। सरकार के आदेश के मुताबिक, शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रहेगा। हालांकि, इस बीच सोशल मीडिया पर यूपी में 16 से 31 जुलाई तक पूर्ण लॉकडाउन की खबर खूब वायरल हो रही है। वहीं, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस खबर का यूपी सरकार ने खंडन किया है।

Up Government Said Lockdown Will Not Apply From 16 To 31 July Pre Orders Will Remain In Force :

सरकार का कहना है कि 31 जुलाई तक कोई लॉकडाउन नहीं किया जा रहा है। हालांकि, 31 जुलाई तक सिर्फ वीकेंड लॉकडाउन ही लागू रहेगा। अपर मुख्य सचिव गृह ने बुधवार को मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि प्रदेश में लॉकडाउन का नया कोई आदेश जानी ​नहीं किया गया है। पूर्व आदेश के मुताबिक, हफ्ते में केवल शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रहेगा। यह लॉकडाउन शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह पांच बजे तक लागू रहेगा।

बंदी में यह सेवाएं रहेंगी चालू

. शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में सभी औद्योगिक कारखाने जिनमें आईटी से जुड़े उद्योग भी शामिल हैं, इस अवधि में चलते रहेंगे।

. सोशल डिस्टेंसिंग और स्वास्थ्य संबंधी अन्य प्रतिबंधों का कड़ाई से पालन करना जरूरी होगा। औद्योगिक इकाइयों में कोविड हेल्प-डेस्क भी स्थापित करना अनिवार्य किया गया है।

. सभी आवश्यक सेवाएं जैसे स्वास्थ्य व चिकित्सीय सेवाएं, आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति पूर्व की भांति खुले रहेंगे। इन सेवाओं में लगे व्यक्तियों, कोरोना वारियर्स, स्वच्छता कर्मी व डोर स्टेप डिलेवरी से जुड़े व्यक्तियों के आने-जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा।

. रेलवे तथा परिवहन निगम की बसों का आवागमन पूर्व की भांति यथावत रहेगा। ट्रेनों से आने वाले यात्रियों के आवागमन के लिए जरूरी बसों की व्यवस्था राज्य सड़क परिवहन निगम द्वारा की जाएगी।

. अंतराष्ट्रीय तथा घरेलू विमान सेवाएं यथावत जारी रहेंगी। विमान यात्रियों को हवाई अड्डे से तक आने-जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा।

. मालवाहक वाहनों के आवागमन पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा। राष्ट्रीय व राज्य राजमार्गों पर परिवहन जारी रहेगा। इन राजमार्गों के किनारे ढाबे और व पेट्रोल पंप खुले रहेंगे।

. इस अवधि में आवश्यक सेवाओं से संबंधित कार्यालय तथा प्रतिबंधों से मुक्त सेवाओं से संबंधित अधिकारी-कर्मचारियों का पहचान पत्र ही ड्यूटी पास माना जाएगा।

. वृहद निर्माण कार्य जैसे एक्सप्रेस-वे, बड़े पुल व सड़कें, लोक निर्माण विभाग के बड़े निर्माण, सरकारी भवन तथा निजी प्रोजेक्ट जारी रहेंगे।

 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए योगी सरकार ने हफ्ते में दो दिन बंदी का ऐलान किया है। सरकार के आदेश के मुताबिक, शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रहेगा। हालांकि, इस बीच सोशल मीडिया पर यूपी में 16 से 31 जुलाई तक पूर्ण लॉकडाउन की खबर खूब वायरल हो रही है। वहीं, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस खबर का यूपी सरकार ने खंडन किया है। सरकार का कहना है कि 31 जुलाई तक कोई लॉकडाउन नहीं किया जा रहा है। हालांकि, 31 जुलाई तक सिर्फ वीकेंड लॉकडाउन ही लागू रहेगा। अपर मुख्य सचिव गृह ने बुधवार को मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि प्रदेश में लॉकडाउन का नया कोई आदेश जानी ​नहीं किया गया है। पूर्व आदेश के मुताबिक, हफ्ते में केवल शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रहेगा। यह लॉकडाउन शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह पांच बजे तक लागू रहेगा। बंदी में यह सेवाएं रहेंगी चालू . शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में सभी औद्योगिक कारखाने जिनमें आईटी से जुड़े उद्योग भी शामिल हैं, इस अवधि में चलते रहेंगे। . सोशल डिस्टेंसिंग और स्वास्थ्य संबंधी अन्य प्रतिबंधों का कड़ाई से पालन करना जरूरी होगा। औद्योगिक इकाइयों में कोविड हेल्प-डेस्क भी स्थापित करना अनिवार्य किया गया है। . सभी आवश्यक सेवाएं जैसे स्वास्थ्य व चिकित्सीय सेवाएं, आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति पूर्व की भांति खुले रहेंगे। इन सेवाओं में लगे व्यक्तियों, कोरोना वारियर्स, स्वच्छता कर्मी व डोर स्टेप डिलेवरी से जुड़े व्यक्तियों के आने-जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा। . रेलवे तथा परिवहन निगम की बसों का आवागमन पूर्व की भांति यथावत रहेगा। ट्रेनों से आने वाले यात्रियों के आवागमन के लिए जरूरी बसों की व्यवस्था राज्य सड़क परिवहन निगम द्वारा की जाएगी। . अंतराष्ट्रीय तथा घरेलू विमान सेवाएं यथावत जारी रहेंगी। विमान यात्रियों को हवाई अड्डे से तक आने-जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा। . मालवाहक वाहनों के आवागमन पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा। राष्ट्रीय व राज्य राजमार्गों पर परिवहन जारी रहेगा। इन राजमार्गों के किनारे ढाबे और व पेट्रोल पंप खुले रहेंगे। . इस अवधि में आवश्यक सेवाओं से संबंधित कार्यालय तथा प्रतिबंधों से मुक्त सेवाओं से संबंधित अधिकारी-कर्मचारियों का पहचान पत्र ही ड्यूटी पास माना जाएगा। . वृहद निर्माण कार्य जैसे एक्सप्रेस-वे, बड़े पुल व सड़कें, लोक निर्माण विभाग के बड़े निर्माण, सरकारी भवन तथा निजी प्रोजेक्ट जारी रहेंगे।