1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP में बढ़ते कोरोना के चलते यूपी सरकार का बड़ा आदेश, कहा- अगले 15 दिन तक अंतरराज्यीय बस सेवा बंद

UP में बढ़ते कोरोना के चलते यूपी सरकार का बड़ा आदेश, कहा- अगले 15 दिन तक अंतरराज्यीय बस सेवा बंद

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए आवागमन न्यूनतम किए जाने की आवश्यकता है। इसके लिए अंतरराज्यीय बस सेवा को तत्काल स्थगित कर दिया जाए। अगले 15 दिनों तक उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बसों का संचालन केवल प्रदेश के अंदर ही किया जाए।

By आराधना शर्मा 
Updated Date

Up Governments Big Order Due To Rising Corona Said Interstate Bus Service Stopped For Next 15 Days

लखनऊ:  सूबे में कोरोना मामले लगातार बढ़ते जा रहें हैं उत्तर प्रदेश सरकार अब कोरोना के चलते सख्त निर्देश जारी किए हैं। दरअसल, सीएम योगी ने कहा कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए आवागमन न्यूनतम किए जाने की आवश्यकता है। इसके लिए अंतरराज्यीय बस सेवा को तत्काल स्थगित कर दिया जाए। अगले 15 दिनों तक उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बसों का संचालन केवल प्रदेश के अंदर ही किया जाए।

पढ़ें :- पक्की खबर: UP सरकार ने 24 मई तक का बढ़ाया लॉकडाउन, रेहड़ी-पटरी वालों को मिलेगा इतना भत्ता

वायु सेवा से आवागमन करने वाले सभी यात्रियों के लिए कोविड निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की जाए। गांव में आने वाले हर एक प्रवासी व्यक्ति की टेस्टिंग करने के भी निर्देश दिए। कहा कि उन्हें नियमानुसार क्वारंटीन किया जाए। मुख्यमंत्री ने रविवार को एक उच्चस्तरीय बैठक में कहा कि बीते 24 घंटों में हमने 2,97,021 सैंपल टेस्ट किए हैं।  इनमें से 1,28,000 से अधिक टेस्ट केवल आरटीपीसीआर माध्यम से हुए। यह एक रिकॉर्ड है।

आपको बता दें, प्रदेश में अब तक 4.13 करोड़ टेस्ट किए जा चुके हैं। सीएम ने कहा कि हमें अस्पतालों में प्रशिक्षित मानव संसाधन की आवश्यकता है। जहां जैसी आवश्यकता हो, मानव संसाधन को उपलब्ध कराया जाए। चिकित्सा शिक्षा मंत्री इस दिशा में कार्यवाही सुनिश्चित कराएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर जिले में टीम-9 गठित की जाए। नोडल अधिकारी नामित करते हुए बेहतर कोविड प्रबंधन के लिए कार्यों को विकेंद्रीकृृत किया जाए। साप्ताहिक बंदी, रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू को प्रभावी ढंग से लागू किया जाए। ग्रामीण क्षेत्र में आने वाले एक-एक प्रवासी व्यक्ति की स्क्रीनिंग कराई जाए। निगरानी समितियों से लेखपाल को भी जोड़ा जाना चाहिए।

पढ़ें :- अब स्कूलों में ऑनलाइन क्लास भी हुई बैन, किया उल्लंघन तो योगी सरकार करेगी सख्त कार्रवाई

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X