1. हिन्दी समाचार
  2. UP जीआरपी का ट्विटर एकाउंट हैक

UP जीआरपी का ट्विटर एकाउंट हैक

Up Grp Twitter Account Hackef Fir Registered

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश राजकीय रेलवे पुलिस की वैरीफाइड आफिशियल ट्विटर एकाउंट @upgrp एक हैकर ने हैक कर लिया। हैकर ने ट्विटर एकाउंट का नाम भी बदल दिया। जीआरपी का ट्विटर एकाउंट हैक होते हुए पूरे विभाग में हड़कम्प मच गया। इसके बाद फौरन जीआरपी ने अपने पुराने नाम से नया ट्विटर एकाउंट @upgrp बनाया। फिलहाल हैक किये गये ट्विटर एकाउंट पर हजारों की संख्या में फालोवर थे। अब उन फालोवरों को नये ट्विटर हैण्डल पर शिफ्ट करने का काम चल रहा है। जीआरपी का ट्विटर एकाउंट हैक के पीछे मकसद क्या है, फिलहाल साफ नहीं हो सका है। अधिकारी हैकिंग की इस घटना को शरारत मान रहे हैं।

पढ़ें :- पापा इरफान खान को याद कर बाबिल हुए इमोशनल, तस्वीर शेयर कर लिखा- मैन स्क्वाड

गोसाईगंज के सिग्नेचर बिल्डिंग के चौथे टावर के तृतीय तल पर जीआरपी का मुख्यालय है। यहां पर जीआरपी का कंट्रोल रूम भी है। बताया जाता है कि 23 जुलाई की दोपहर को कंट्रोल रूम में कांस्टेबिल राजा राम की ड्यूटी थी। रात करीब 8.51 पर सरकारी नम्बर 9454402544 पर एक अनजान नम्बर 9330227267 से एक कॉल आयी। फोन ड्यूटी पर तैनात सिपाही राजाराम ने उठाया।

फोनकर्ता ने बताया कि वह ट्विटर कम्पनी से बोल रहा है और जीआरपी का आफिशियल और वैरीफाइट एकाउंट @upgrp का वार्षिक सत्यापन होना है। फोनकर्ता ने सिपाही को बताया कि सरकारी नम्बबर को एक ओटीपी नम्बर आयेगा और नम्बर को बताना होगा।

कुछ ही देर के बाद सरकारी नम्बर पर ओटीपी आया और सिपाही राजाराम ने बिना सोचे और समझे ओटीपी नम्बर बता दिया। बस इसके कुछ ही मिनट के अंदर जीआरपी का आफिशियल ट्विटर एकाउंट ञ्चह्वश्चद्दह्म्श्च हैक कर लिया गया। आरोपी ने जीआरपी का ञ्चह्वश्चद्दह्म्श्चका नाम बदल करgrp uutar pradesh @Rupgrpraghav कर दिया।

सिपाही ने जब ट्विटर एकाउंट का नाम बदला हुआ देखा तो वह सन्न रह गया। उसने फौरन इस बारे में आलाधिकारियों को बताया। अधिकारियों को जब इस बात का पता चला तो वह लोग भी सन्न रह गये। फौरन अधिकारियों ने @upgrp नाम से नया ट्विटर एकाउंट बना लिया। हैक होने की वजह से जीआरपी के वैरीफाइड एकाउंट से जुड़े हजारों लोग हट गये। अब इस मामले में सिपाही राजाराम ने हैकर के खिलाफ गोसाईगंज थाने में 66डी आईटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज करायी है। मौजूदा समय में हैक जीआरपी के ट्विटर एकाउंट को 13.80 हजार लोग फालोआर हैं। वहीं जीआरपी ने के नये ट्विटर एकाउंट को सिर्फ 18 लोग ही फालो कर रहे हैं। जीआरपी के सामने सबसे बड़ी चुनौती अपने पुराने फालोवरों का वापस नये एकाउंट से जुड़ाने की है।

पढ़ें :- Dhanashree ने डांस मे दी माधुरी दीक्षित को टक्कर, देखने वालों के मुंह रह गए खुले के खुले... VIDEO

जीआरपी के एडीजी संजय सिंघल से जब इस पूरी घटना के बारे में बात की गयी तो उन्होंने बताया कि अभी तक की गयी छानबीन में इस बात का पता चला कि कंट्रोल रूम के सरकारी नम्बर फोन कोलकता से किया गया था। वहीं ट्विटर एकाउंट हैक करने वाले ने बीते 24 घंटे में सिर्फ एक ट्विट ही किया है।

उन्होंने जीआरपी का आफिशियल एकाउंट हैक होने की वजह से कुछ खास दिक्कत तो नहीं हुई, बस ट्विटर से जुड़े लोगों को कुछ वक्त के लिए असुविधा जरूर हुई होगी। उन्होंने बताया कि इस संबंध में ट्विटर से सम्पर्क कर जीआरपी का ट्विटर एकाउंट हैक करने वालों के बारे में जानकारी मांगी गयी है।

उन्होंने लोगों से grp uutar pradesh @Rupgrpraghav नाम के एकाउंट पर ट्विट न करने की अपील की है। एडीजी ने बताया कि जल्द से जीआरपी का नया ट्विटर नीले टीक के साथ वैरीफाइ हो जायेगा। उन्होंने बताया कि पुलिस की टीम हैकर के बारे में जानकारी जुटाने में लगी है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...