UP Investors Summit 2018: इस उद्योपति ने की सबसे अधिक निवेश की घोषणा

UP Investors Summit 2018: अडानी ग्रुप ने की 35 हजार करोड़ के निवेश की घोषणा
UP Investors Summit 2018: अडानी ग्रुप ने की 35 हजार करोड़ के निवेश की घोषणा

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लखनऊ में दो दिवसीय यूपी इन्वेस्टर्स समिट का उदघाटन किया। इसके बाद देशभर के नामी-गिरामी उद्योगपतियों ने यूपी में निवेश की घोषणा की। जहां सबसे पहले जियो कंपनी के मालिक मुकेश अंबानी ने 3 साल में 10 हजार करोड़ के निवेश का वादा करते हुए कहा, दिसंबर 2018 तक हर गांव में जियो पहुँच जाएगा। वहीं अन्य उद्योगपतियों ने भी अपने निवेश की घोषणा की।

अगले 5 साल में बिड़ला ग्रुप करेगा 25 हजार करोड़ का निवेश

{ यह भी पढ़ें:- कुंभ मेले को हिट बनाने के लिए 100 से अधिक देशों में रोड शो कर रही है यूपी सरकार }

समिट में बिड़ला ग्रुप के मालिक कुमार मंगलम बिड़ला ने यूपी में 25 हजार करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा करते हुए कहा, “यूपी को इज ऑफ डूइंग बिजनेस में 7वीं रैंक की बधाई। बेहतर पॉवर सप्लाई और लैंड बैंक जैसे बुनियादी सुविधा के विकास से योगी सरकार ने निवेश के लिए बेहतर माहौल किया है। 24 हजार करोड़ का निवेश यहाँ पहले से कर रहे हैं। अगले 5 साल में हम 25 हजार करोड़ का निवेश करेंगे।” उन्होंने कहा कि 100 गांवों में हम हेल्थ केअर और बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने में भी सहयोग करेंगे।


एस्सेल ग्रुप का 18 हजार करोड़ का निवेश

{ यह भी पढ़ें:- भारत में सुपर हॉर्नेट लड़ाकू विमान बनाएगा बोइंग, HAL और Mahindra के साथ किया समझौता   }

एस्सेल ग्रुप लिमिटेड के चेयरमैन सुभाष चंद्रा ने समिट के दौरान बताया, “पिछली सरकार में हमने 30 हजार करोड़ का MOU किया था लेकिन तीन साल में महज 3 हजार करोड़ का ही निवेश हो सका। अब नई सरकार का उद्देश्य केवल MOU ही करना नहीं है वह उसकी कठिनाई भी दूर कर रही है। समीक्षा के बाद योगी जी ने MOU घटाकर 18 हजार करोड़ के कर दिए हैं जिससे उसे जमीन पर उतारा जा सके।”

अडानी ग्रुप करेगा 35 हजार करोड़ का निवेश

देश के मशहूर और अमीर उद्योगपति में से एक अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी ने यूपी में 35 हजार करोड़ निवेश की घोषणा की। समिट के दौरान अडानी ने कहा, ‘अडानी ग्रुप को मिशन राष्ट्र निर्माण है जो न्यू इंडिया की अवधारणा शामिल है। यूपी में हम वर्ल्ड क्लास फूड ऐंड एग्री पार्क बनाएंगे। यहां पर बड़ा लॉजिस्टिक पार्क भी हमारा लक्ष्य है। रोड और मेट्रो निर्माण में भी हम निवेश करेंगे। अगले 3 वर्ष में हम यूपी में 35 हजार करोड़ का निवेश करेंगे। यहां हम वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी और स्किल सेंटर भी स्थापित करेंगे।’

{ यह भी पढ़ें:- यूपी इंवेस्टर्स समिट 2018 के नाम पर जमकर हुई लूट, 100 रुपए का काम फूंक डाले 250 }

अडानी ग्रुप कोयला खनन, रियल स्टेट, बंदरगाह और कोल्ड स्टोरेज में निवेश करेगा। 6 लाख टन अनाज रखने के लिए कोल्ड स्टोरेज बनाए जाएंगे। अडानी ने कहा कि योगी जी आप जिस राज्य का नेतृत्व कर रहे हैं उसके बिना देश की प्रगति कथा नहीं लिखी जा सकती।

आनंद महिन्द्राम ने किया वाराणसी में निवेश का वादा

महिंद्रा एंड महिंद्रा के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने समिट के दौरान कहा कि कंपनी अब वाराणसी में भी कई तरह के निवेश करेगी। इसके तहत वाराणसी में भी महिंद्रा के रिजॉर्ट बनाए जाएंगे।


एस्सेल ग्रुप लिमिटेड ने 18,750 करोड़ रुपये का एमओयू किया साइन

{ यह भी पढ़ें:- उप्र इन्वेस्टर्स समिट में मोबाइल एप ई-सारथी लांच }

एस्सेल ग्रुप लिमिटेड के चेयरमैन सुभाष चंद्रा ने समिट के दौरान बताया कि एस्सेईल ग्रुप ने उत्तर प्रदेश सरकार के साथ 18,750 करोड़ रुपये का एमओयू साइन किया है।

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लखनऊ में दो दिवसीय यूपी इन्वेस्टर्स समिट का उदघाटन किया। इसके बाद देशभर के नामी-गिरामी उद्योगपतियों ने यूपी में निवेश की घोषणा की। जहां सबसे पहले जियो कंपनी के मालिक मुकेश अंबानी ने 3 साल में 10 हजार करोड़ के निवेश का वादा करते हुए कहा, दिसंबर 2018 तक हर गांव में जियो पहुँच जाएगा। वहीं अन्य उद्योगपतियों ने भी अपने निवेश की घोषणा की। अगले 5 साल में बिड़ला ग्रुप करेगा 25…
Loading...