शर्मनाक: सिरफिरे ने सरेराह तलवार से हमला कर काट डाली लड़की का हाथ

Up Luck Man Chopped Off Girl Hand Paw In Uttar Pradesh

लखीमपुर खीरी। यूपी में बीजेपी सरकार बनने के बाद जनता में इस बात की उम्मीद जग गयी कि अब योगी सरकार में बेपटरी ‘लॉं एंड ऑर्डर’ वापस पटरी पर ले आएगी। चुनावी प्रचार के दौरान बीजेपी ने भी सार्वजनिक मंचों से पूर्ववर्ती सरकार को इसी मुद्दे पर जमकर घेरा। फिर जब योगी आदित्यनाथ सूबे के मुख्यमंत्री बने तो महिला सुरक्षा को लेकर बड़े-बड़े दावे होने लगे। एंटी रोमियो स्कवॉड का गठन भी महिलाओं के साथ बढ़ते अत्याचार को ध्यान में रखकर किया गया, लेकिन जमीन पर इसका असर कही भी नहीं दिख रहा है। सूबे में बेखौफ अपराधी जिस तरह से युवतीयों व महिलाओं को अपना शिकार बना रहें है उसे देख वर्तमान हालात को बद से बदतर ही कहा जा सकता है। ताजा ममाला राजधानी राजधानी से करीब सवा सौ किलोमीटर दूर लखीमपुर खीरी का हैं जहां एक सिरफिरे आशिक ने सरेराह एक लड़की पर हमला करते हुए उसका हाथ काट दिया। जिसके बाद पीड़िता सड़क पर तड़पती रही।

दरअसल मामला लखीमपुर के बाबू सर्राफ नगर मोहल्ले का है। यहां के रहने वाले विनोद मिश्रा की नाबाल‍िग बेटी (13) बुधवार शाम करीब 4 बजे अपनी छोटी बहन के साथ घर पर अकेली थी। फतेहपुर मोहल्ले के रहने वाले रोहित ने अपने भाई मोहित से लड़की को यह कहकर अपने घर बुलवाया कि तुम रोहित के मोबाइल का चार्जर चुरा लाई हो। बताया जाता है क‍ि लड़की अपनी सफाई देने के लिए घर से निकली। वो कुछ दूर पहुंची ही थी क‍ि अचानक रोहित वहां तलवार लेकर सामने आ गया और लड़की पर हमला करने लगा। इस दौरान उसने लड़की के बाएं हाथ का पंजा काटकर अलग कर दिया। साथ ही उसके दाएं हाथ पर और स‍िर पर भी वार क‍िया। लड़की की चीख-पुकार सुन लोग उसे बचाने के ल‍िए दौड़े और मौके से आरोपी रोहित को भी पकड़ लिया।

मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़ित लड़की को जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां लड़की की नाजुक हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे लखनऊ रेफर कर दिया है। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है।

लखीमपुर खीरी। यूपी में बीजेपी सरकार बनने के बाद जनता में इस बात की उम्मीद जग गयी कि अब योगी सरकार में बेपटरी 'लॉं एंड ऑर्डर' वापस पटरी पर ले आएगी। चुनावी प्रचार के दौरान बीजेपी ने भी सार्वजनिक मंचों से पूर्ववर्ती सरकार को इसी मुद्दे पर जमकर घेरा। फिर जब योगी आदित्यनाथ सूबे के मुख्यमंत्री बने तो महिला सुरक्षा को लेकर बड़े-बड़े दावे होने लगे। एंटी रोमियो स्कवॉड का गठन भी महिलाओं के साथ बढ़ते अत्याचार को ध्यान में…