1. हिन्दी समाचार
  2. जल्द जुड़ेंगे हवाई सेवा से यूपी के प्रमुख शहर, आठ नए एयरपोर्ट का चल रहा निर्माण

जल्द जुड़ेंगे हवाई सेवा से यूपी के प्रमुख शहर, आठ नए एयरपोर्ट का चल रहा निर्माण

Up Major Cities Will Soon Join The Air Services Construction Of Eight New Airports Is Going On

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ: रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम (आरसीएस) के तहत राज्य में विकसित किए जा रहे नए एयरपोर्टों से विमान सेवाएं तय करने के लिए एयरलाइंसों के साथ संवाद स्थापित किया जा रहा है। राज्य सरकार की इस कोशिश से प्रदेश के सभी प्रमुख शहर खासकर मंडल मुख्यालय लखनऊ के साथ ही आपस में और देश के प्रमुख शहरों से हवाई सेवा से जुड़ जाएंगे। महज 30 से 40 मिनट में लोग एक-दूसरे शहर में आने जाने लगेंगे। नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी के मुताबिक झांसी एयरपोर्ट का काम इसी साल पूरा हो जाएगा। चित्रकूट, अलीगढ़, मुरादाबाद और आजमगढ़ के एयरपोर्ट भी 2021 में उड़ानों के लिए तैयार मिलेंगे।

पढ़ें :- नवनीत सहगल को मिली सूचना विभाग की कमान, अवनीश अवस्थी से लिया गया वापस

इस समय में आजमगढ़, अलीगढ़, मुरादाबाद तथा श्रावस्ती में राजकीय निर्माण निगम द्वारा एयरपोर्ट बनाने का काम चल रहा है। काम बहुत हद तक पूरा कर लिया गया है। वहीं चित्रकूट, म्योरपुर (सोनभद्र) और झांसी में भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण द्वारा एयरपोर्ट का निर्माण कार्य चल रहा है। झांसी एयरपोर्ट के विकास में प्राधिकरण रक्षा मंत्रालय के समन्वय से काम कर रहा है। कुशीनगर में राइट्स लि. एयरपोर्ट का विकास कर रहा है। सरसावां (सहारनपुर) में एयरपोर्ट के विकास के लिए जमीन की खरीद की जा चुकी है। अयोध्या एयरपोर्ट के विकास के लिए भूमि की खरीद की जा रही है। गाजीपुर और मेरठ में भी आरसीएस के तहत एयरपोर्ट बनाया जाना प्रस्तावित है।

विकसित किए जा रहे एयरपोर्टों में से आजमगढ़ से लखनऊ, अलीगढ़ से लखनऊ, बरेली से लखनऊ, चित्रकूट से लखनऊ, झांसी से लखनऊ, म्योरपुर (सोनभद्र) से लखनऊ के लिए विमान सेवाएं प्रस्तावित की गई हैं। बरेली से दिल्ली, मुरादाबाद से लखनऊ और श्रावस्ती से लखनऊ के लिए उड़ान के लिए पहले से विमान कंपनी का चयन किया जा चुका है।

-2017 में सरकार बनने पर राज्य में सिर्फ चार एयरपोर्ट लखनऊ, वाराणसी, गोरखपुर और आगरा से विमान सेवाएं थीं।
-चारों एयरपोर्टों से कुल 25 उड़ानें थीं जिनमें सात अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी शामिल हैं।
-इन चार एयरपोर्टों से 51 उड़ाने, 12 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें
-8 दिसंबर 2018 को प्रयागराज एयरपोर्ट शुरू हुआ, छह उड़ाने
-कानपुर एयरपोर्ट से तीन उड़ानें शुरू की गईं।
-हिंडन के नए सिविल इंक्लेव से 10 मार्च 2019 से एक उड़ान है।
-बरेली का नया सिविल इन्क्लेव 10 मार्च 2019 को शुरू हुआ। यहां से अभी कोई उड़ान नहीं है।
-राज्य के इन आठ एयरपोर्टों से इस समय 61 उड़ानें हैं।

पढ़ें :- हाथरस केस को लेकर बीजेपी विधायक ने राज्यपाल को लिखा पत्र, कहा-डीजीपी-डीएम-एसएसपी पर चले हत्या का केस

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...