यूपी में बढ़ रहा है गर्मी का प्रकोप

लखनऊ। प्रदेश में गर्मी का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। कई जनपदों में पारा 45 डिग्री के पार पहुंच गया है। प्रदेश में सबसे अधिक गर्म बांदा रहा जहां पारा 47.2 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। राजधानी में पिछले कई दिनों से पारा 40 के ऊपर है। अधिक गर्मी के कारण प्रदेश के मध्य क्षेत्र में कम दबाव का क्षेत्र बन गया है, जिससे राजधानी समेत कई जिलों में आंधी के साथ बूंदाबांदी के आसार है। न्यूनतम पारा भी कई जिलों में 25 के आसपास पहुंच गया है, जिससे लोगों को रात में भी गर्मी से राहत नहीं मिल रही है। झांसी में न्यूनतम पारा 28.6 डिग्री सेल्यिस तक पहुंच गया, जिससे रात में भी गर्म हवाएं चलने से लोग हलकान रहें।




विशेषज्ञों का कहना है कि गर्मी से अभी राहत नहीं मिलने वाली है।राजधानी सहित प्रदेश के अधिकतर जिलों में गर्मी का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। राजधानी में सोमवार की सुबह कुछ देर ठंडी हवा चली, जिससे लोगों को राहत मिली। दस बजे के बाद पारा चढ़ने से गर्मी ने तेवर दिखाना शुरू किया। मौसम विभाग के अनुसार अधिकतम तापमान 41.3 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि सामान्य से एक डिग्री अधिक था। न्यूनतम तापमान 25.9 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि सामान्य से दो डिग्री अधिक था। आद्रता 61 फीसद रही। मौसम विभाग के निदेशक जेसी गुप्त ने बताया कि प्रदेश के मध्य क्षेत्र में कम दबाव का क्षेत्र बना है जिससे राजधानी में बदली व बूंदाबांदी के आसार हैं।




हालांकि इससे अधिकतम तापमान पर खास प्रभाव नहीं रहेगा। अभी कुछ दिनों तक अधिकतम तापमान 40 डिग्री व इससे अधिक रहेगा। प्रदेश के कई जनपदों में पारा 40 के पार रहा। कुछ जनपदों में पारा 45 के पार भी पहुंच गया। इलाहाबाद में 45.7 झांसी में 45.4 व उरई में 45.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। इसके अलावा वनारस में 43.4, फुर्सतगंज में 42.7, मेरठ में 43, कानपुर में 43.1, इटावा में 42,2, फतेहगढ़ में 40,6, लखीमपुर खीरी में 41.3, हमीरपुर में 44, आगरा में 44.4, अलीगढ़ में 43.4 व मुजफ्फरनगर में 41.5 डिग्री सेल्सियस पारा रहा। अधिकतर जिलों में न्यूनतम पारा 22 से 24 डिग्री सेल्सियस तक रहा। न्यूनतम पारा बनारस में 27, गाजीपुर में 25 व बरेली में 24.8 डिग्री रहा। इन जनपदों में रात में भी लोगों को गर्मी से राहत नहीं मिली। विशेषज्ञों का कहना है कि पूर्वी उत्तर प्रदेश में गरज के साथ बौछार होने के आसार हैं।