मासूम छात्रा से गैंगरेप फिर हत्या, तलवार से काटकर बोरे में भर दी लाश

लखनऊ। यूपी के रामपुर से हैवानियत की एक वारदात प्रकाश में आई है, यहां एक 12 साल की छात्रा के साथ पहले गैंगरेप किया गया और बाद में उसकी हत्या कर लाश के टुकडे कर बोरे में भर दिए गए। ग्रामीण जब छात्रा को तलाशते हुए आरोपियों के घर में दाखिल हुए तो अन्दर का मंजर देख ग्रामीणों की रूह कांप गयी। घर के अन्दर छात्रा के शव के टुकडे बिखरे हुए पडे थे, जिन्हें आरोपी बोरे में भर रहे थे। ग्रामीणों को देख दो आरोपी मौके से फरार हो गए, जबकि उनके पिता को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया गया है। पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गयी है।



रामपुर के केमरी थाना क्षेत्र में 12 साल की छात्रा घर से कुछ दूरी पर एक  दुकान से कॉपी लेने निकली थी। दुकानदार छोटू ने अपने साथी सलीम की मदद से मासूम को अपने घर में खींच लिया और उसके साथ गैंगरेप किया। घर में छोटू का पिता छुट्टन भी मौजूद था। घटना को छुपाने के लिए आरोपियों ने छात्रा की हत्या कर तलवार से शव के टुकडे कर दिये और टुकड़ों को बोरे में भरने लगे।  इस दौरान पूरे गांव में मासूम की तलाश करते हुए परिजन और ग्रामीणों ने इनके घर के दरवाजे बंद देखे तो लोगों ने घर खुलवाने की कोशिश की।

काफी देर बाद भी जब दरवाजा नहीं खुला हो ग्रामीणों ने दरवाजे को तोड़ दिया। घर के अन्दर का मंजर देख सभी का कलेजा कांप गया।
घर में मासूम के छोटे-छोटे टुकड़े बिखरे पड़े थे, चारो तरफ खून ही खून नजर आ रहा था और अारोपी लाश के उन टुकड़ों को बोरी में भरने की कोशिश कर रहे थे।



ग्रामीणों ने जब आरोपियों को पकड़ने की कोशिश की तो आरोपियों ने तलवार से ग्रामीणों पर जानलेवा हमला कर दिया। इस हमले में 4 लोग बुरी तरह जख्मी हो गए। इस बीच मौके का फायदा उठाकर दो आरोपी वहां से फरार हो गए। वहीं घर में मौजूद छोटू के पिता छुटटन को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया।

ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी छोटू कम उम्र में ही बलात्कार के आरोप में सजा काट चुका है। परिजनों का कहना है कि घटना में इन लोगों के साथ कुछ अन्य लोग भी शामिल हैं, जो मौके से फरार हो गए। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।