1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP MLC Election 2023 : यूपी में MLC के नामों को लेकर हलचल तेज, रेस में आगे चल रहे हैं ये नाम

UP MLC Election 2023 : यूपी में MLC के नामों को लेकर हलचल तेज, रेस में आगे चल रहे हैं ये नाम

UP MLC Election 2023 : यूपी विधान परिषद (MLC Election) की छह सीटों पर मनोनीत कोटे से सदस्यों का चयन होना है। ये सभी सीट अप्रैल और मई से ही खाली पड़ी हुई हैं। एमएलसी (MLC) के नामों को फाइनल करने के लिए यूपी बीजेपी (UP BJP) में की बैठक सोमवार को होने वाली है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

UP MLC Election 2023 : यूपी विधान परिषद (MLC Election) की छह सीटों पर मनोनीत कोटे से सदस्यों का चयन होना है। ये सभी सीट अप्रैल और मई से ही खाली पड़ी हुई हैं। एमएलसी (MLC) के नामों को फाइनल करने के लिए यूपी बीजेपी (UP BJP) में की बैठक सोमवार को होने वाली है। हालांकि पहले इन छह सीटों पर सदस्यों का चयन करने के लिए 22 नामों की लिस्ट तैयार की गई थी, लेकिन अब इस रेस में छह नाम सबसे आगे हैं। हालांकि इनके नाम पर अंतिम मोहर दिल्ली में लगेगी।

पढ़ें :- Union Budget 2023: बजट पर विपक्षी नेताओं ने उठाए सवाल, कहा-BJP जनता को पहले कुछ न दिया तो अब क्या देगी?

नए साल पर बीजेपी (BJP)के कुछ क्षेत्रीय अध्यक्षों और पदाधिकारियों को बड़ी सौगात मिल सकती है। राज्य में बीजेपी (BJP)कुछ क्षेत्रीय अध्यक्षों और पदाधिकारियों को इन मनोनीत सीटों पर विधान परिषद (Legislative Assembly) भेजने का विचार कर रही है। खाली हुई छह सीटों पर पार्टी की तैयारी अपने क्षेत्रीय अध्यक्षों के साथ-साथ प्रदेश पदाधिकारियों को भी विधान परिषद (Legislative Assembly) भेजने की है।

रेस में आगे हैं ये नाम

हाल ही में कोर कमेटी की बैठक में कुछ नामों पर चर्चा हुई। उसमें दो क्षेत्रीय अध्यक्ष ब्रज क्षेत्र के रजनीकांत माहेश्वरी और कानपुर बुंदेलखंड क्षेत्र के मानवेंद्र सिंह का नाम सबसे ज्यादा चर्चा में चल रहा है। इसके अलावा कुछ प्रदेश पदाधिकारियों के नाम भी चर्चा में हैं। इसमें ब्रज बहादुर प्रकाश पाल और संतोष सिंह के नाम प्रमुख हैं, जबकि पार्टी की महिला पदाधिकारी प्रियंका रावत का भी नाम एमएलसी के लिए चर्चा में है। वहीं एक नाम संगठन के बाहर का भी हो सकता है।

हालांकि सूत्रों के अनुसार पार्टी ने छह सीटों के लिए 22 नामों की एक लिस्ट तैयार की है, लेकिन दिल्ली में इन नामों पर मुहर लगने के बाद ही छह नाम सीएम योगी (CM Yogi) के जरिए राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (Governor Anandiben Patel) को भेजे जाएंगे। सूत्रों की मानें तो संगठन की कोशिश है कि पांच क्षेत्रीय अध्यक्षों में से दो को एमएलसी नामित कर दिया जाए। हालांकि पार्टी का फोकस कला, संगीत के साथ समाज सेवा के क्षेत्र से लोगों को नामित करने पर है।

पढ़ें :- UP का अगला DGP कौन? काउंटडाउन शुरू... रेस में ये नाम चल रहे हैं सबसे आगे

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...