1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP News: ‘ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023’ का फरवरी में होगा आयोजन, सीएम बोले-दुनिया भर के निवेशकों का स्वागत है

UP News: ‘ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023’ का फरवरी में होगा आयोजन, सीएम बोले-दुनिया भर के निवेशकों का स्वागत है

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को “उत्तर प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023” के आयोजन की औपचारिक घोषणा की है। मुख्यमंत्री नई दिल्ली में आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-कर्टेन रेजर सेरेमनी में सम्मिलित हुए और दुनियाभर के औद्योगिक निवेशकों को उत्तर प्रदेश में निवेश के लिए आमंत्रित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि, उत्तर प्रदेश एक प्रगतिशील और परिवर्तनकारी यात्रा के शिखर पर है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को “उत्तर प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023” के आयोजन की औपचारिक घोषणा की है। मुख्यमंत्री नई दिल्ली में आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-कर्टेन रेजर सेरेमनी में सम्मिलित हुए और दुनियाभर के औद्योगिक निवेशकों को उत्तर प्रदेश में निवेश के लिए आमंत्रित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि, उत्तर प्रदेश एक प्रगतिशील और परिवर्तनकारी यात्रा के शिखर पर है।

पढ़ें :- IND vs NZ T20 Match : भारत और न्यूजीलैंड के बीच 29 जनवरी को इकाना स्टेडियम में खेले जाने मैच की तैयारियों का जायजा लेने पहुंची मण्डलायुक्त डॉ. रोशन जैकब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ के विजन का एक प्रमुख स्तंभ भी उत्तर प्रदेश है। प्रदेश सरकार ने सक्षम नीतिगत समर्थन एवं विश्वस्तरीय बुनियादी ढांचा प्रदान कर प्रदेश के अंदर एक कारोबारी माहौल भी दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने रिफॉर्म, परफॉर्म एवं ट्रांसफॉर्म के मंत्र को उत्तर प्रदेश में लागू किया है। विगत साढ़े 05 वर्षों के दौरान यूपी सरकार ने आर्थिक विकास एवं समृद्धि की दिशा में अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। इस दृष्टि से प्रदेश सरकार आगामी 10 से 12 फरवरी- 2023 तक प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ‘ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023’ का आयोजन कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के संकल्प के अनुरूप भारत की इकोनॉमी को $5 ट्रिलियन इकोनॉमी बनाने हेतु उत्तर प्रदेश को ग्रोथ इंजन के रूप में अपनी भूमिका का निर्वहन करना है।इसके लिए यूपी सरकार ने $1 ट्रिलियन इकोनॉमी से संबंधित आगामी 05 वर्ष के कार्यक्रम को आप सबके सामने प्रस्तुत किया है। उत्तर प्रदेश ने 13 वर्तमान व आगामी एक्सप्रेस-वे के साथ स्वयं को ‘एक्सप्रेस-वे राज्य’ के रूप में स्थापित किया है। लखनऊ, वाराणसी एवं कुशीनगर में मौजूदा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट संचालित हैं।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि, उत्तर प्रदेश, देश में निवेश हेतु सबसे आकर्षक गंतव्य के रूप में दुनिया का ध्यान आकर्षित कर रहा है। यूपी सरकार ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ के साथ ही ‘ईज ऑफ स्टार्टिंग बिजनेस’ पर भी पूरा ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि, उत्तर प्रदेश की नई औद्योगिक नीति एक विकल्प आधारित मॉडल प्रदान करती है, जो उत्पादन, रोजगार एवं निर्यात को प्रोत्साहित करती है। उत्तर प्रदेश, PM गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान को लागू करने वाले अग्रणी राज्यों में से एक है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...