UP: खेत में मिला साध्वी का निर्वस्त्र शव, दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका

साध्वी की हत्या
यूपी: खेत में मिला साध्वी का निर्वस्त्र शव, दुष्कर्म के बाद हत्या की भी आशंका

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में भोकर हेड़ी गंगा खादर के जंगल में एक साध्वी (35) की गला दबाकर हत्या कर दी गई। शव निर्वस्त्र अवस्था में था और हत्या से पहले उनके साथ दुष्कर्म किए जाने की भी आशंका जताई जा रही है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

Up Nine Dead Body Of Sadhvi Found In The Field Fear Of Murder After Rape :

पुलिस के मुताबिक भोकरहेड़ी-लक्सर मार्ग पर सोनाली नदी के निकट से भोकरहेड़ी और हाजीपुर के लिए खोले के बीच होकर कच्चा मार्ग जाता है। पुलिस को सूचना मिली कि खोले के निकट गन्ने के खेत में महिला का शव पड़ा हुआ है। मृतका के एक पैर में गोल्ड स्टार का जूता, ब्राउन कलर के मोजे, गले में दो रुद्राक्ष और तीन मोतियों की माला सहित गले में लाल व पीले रंग का स्टॉल लिपटा मिला, हाथ में काला धागा और कलावा भी बंधा था, जिससे उनके साध्वी होने की संभावना जताई जा रही थी।

शव के पास ही एक सफेद रंग की सोनीपत नंबर की एचआर 10-एम- 6263 नंबर की कार मिली है। भोपा सीओ राम मोहन शर्मा ने बताया कि मृतका के फोटो को सोशल मीडिया पर डाला गया तो देर रात को उसकी पहचान साध्वी के रुप में हुई। वह मूलरूप से मुजफ्फरनगर के थाना छपार क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली थी। ग्रामीणों ने बताया कि वह करीब पंद्रह साल पहले साध्वी बन गई थी। जो भ्रमण पर रहती थी। वह कभी-कभी शुकतीर्थ भी आती जाती थी।

15 साल पहले छोड़ा था घर
गांव इलाहाबास निवासी ग्रामीण रामपाल ने मृतका का फोटो देखकर शिनाख्त की है। वह शुकतीर्थ में किसी आश्रम में रह रही थी, इसकी पुष्टि चौकी प्रभारी ने की है। छपार थाना प्रभारी पवन कुमार ने बताया कि उनके परिजनों और गांव वालों का कहना है कि वह 15 वर्ष पूर्व साध्वी बन कर शुकतीर्थ में चली गई थी। वहीं पर किसी आश्रम में रहती थी। उनके बारे में अधिक जानकारी परिजनों को भी नहीं है।

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में भोकर हेड़ी गंगा खादर के जंगल में एक साध्वी (35) की गला दबाकर हत्या कर दी गई। शव निर्वस्त्र अवस्था में था और हत्या से पहले उनके साथ दुष्कर्म किए जाने की भी आशंका जताई जा रही है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस के मुताबिक भोकरहेड़ी-लक्सर मार्ग पर सोनाली नदी के निकट से भोकरहेड़ी और हाजीपुर के लिए खोले के बीच होकर कच्चा मार्ग जाता है। पुलिस को सूचना मिली कि खोले के निकट गन्ने के खेत में महिला का शव पड़ा हुआ है। मृतका के एक पैर में गोल्ड स्टार का जूता, ब्राउन कलर के मोजे, गले में दो रुद्राक्ष और तीन मोतियों की माला सहित गले में लाल व पीले रंग का स्टॉल लिपटा मिला, हाथ में काला धागा और कलावा भी बंधा था, जिससे उनके साध्वी होने की संभावना जताई जा रही थी। शव के पास ही एक सफेद रंग की सोनीपत नंबर की एचआर 10-एम- 6263 नंबर की कार मिली है। भोपा सीओ राम मोहन शर्मा ने बताया कि मृतका के फोटो को सोशल मीडिया पर डाला गया तो देर रात को उसकी पहचान साध्वी के रुप में हुई। वह मूलरूप से मुजफ्फरनगर के थाना छपार क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली थी। ग्रामीणों ने बताया कि वह करीब पंद्रह साल पहले साध्वी बन गई थी। जो भ्रमण पर रहती थी। वह कभी-कभी शुकतीर्थ भी आती जाती थी। 15 साल पहले छोड़ा था घर गांव इलाहाबास निवासी ग्रामीण रामपाल ने मृतका का फोटो देखकर शिनाख्त की है। वह शुकतीर्थ में किसी आश्रम में रह रही थी, इसकी पुष्टि चौकी प्रभारी ने की है। छपार थाना प्रभारी पवन कुमार ने बताया कि उनके परिजनों और गांव वालों का कहना है कि वह 15 वर्ष पूर्व साध्वी बन कर शुकतीर्थ में चली गई थी। वहीं पर किसी आश्रम में रहती थी। उनके बारे में अधिक जानकारी परिजनों को भी नहीं है।