यूपी: आज और कल पूरी तरह से बंद रहेंगे दफ्तर, शहरी और ग्रामीण इलाकों के बाजार

lucknow
यूपी: आज और कल पूरी तरह से बंद रहेंगे दफ्तर, शहरी और ग्रामीण इलाकों के बाजार

लखनऊ। कोरोना की चेन तोड़ने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लगातार काम कर रही है। सरकार की सख्ती के कारण अन्य राज्यों की तुलना में यहां पर कम कोरोना संक्रमित के मामले हैं। वहीं, इसको देखते हुए सरकार ने आज और कल दो दिन के लिए बाजार, व्यावसायिक प्रतिष्ठान, सरकारी दफ्तार की बंदी व आवाजाही पर सख्ती की है।

Up Offices To Be Completely Closed Today And Tomorrow Markets In Urban And Rural Areas :

हालांकि इस बीच सरकार ने 11 व 12 जुलाई को सभी धार्मिक स्थलों और ग्रामीण क्षेत्रों की तरह शहरी क्षेत्रों में भी औद्योगिक कारखानों को खुले रखने की छूट दे दी है। इस संबंध में संशोधित दिशानिर्देश जारी कर दिए गए हैं।  प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण तथा इन्सेफेलाइटिस, मलेरिया, डेगू व कालाजार जैसे संचारी रोगों का संक्रमण रोकने के लिए 10 से 12 जुलाई तक स्वच्छता अभियान चलाने तथा शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह पांच बजे तक सरकारी दफ्तरों, शहरी व ग्रामीण हाटों, बाजारों व गल्ला मंडियों तथा व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को सख्ती से बंद करने का एलान किया है।

आवश्यक सेवाओं तथा रेल व हवाई सेवाओं को इस प्रतिबंध से मुक्त रखा गया है। शुक्रवार सुबह से प्रदेश भर में स्वच्छता संबंधी मुहिम शुरू हो गई। शाम को बंदी संबंधी आदेश लागू होने से पहले सरकार की ओर से दो नए निर्देश जारी किए गए। पहला आदेश मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने किया। इसमें ग्रामीण क्षेत्रों की तरह शहरी क्षेत्रों में भी समस्त औद्योगिक कारखानों को खुले रखने की छूट दी गई।

 

लखनऊ। कोरोना की चेन तोड़ने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लगातार काम कर रही है। सरकार की सख्ती के कारण अन्य राज्यों की तुलना में यहां पर कम कोरोना संक्रमित के मामले हैं। वहीं, इसको देखते हुए सरकार ने आज और कल दो दिन के लिए बाजार, व्यावसायिक प्रतिष्ठान, सरकारी दफ्तार की बंदी व आवाजाही पर सख्ती की है। हालांकि इस बीच सरकार ने 11 व 12 जुलाई को सभी धार्मिक स्थलों और ग्रामीण क्षेत्रों की तरह शहरी क्षेत्रों में भी औद्योगिक कारखानों को खुले रखने की छूट दे दी है। इस संबंध में संशोधित दिशानिर्देश जारी कर दिए गए हैं।  प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण तथा इन्सेफेलाइटिस, मलेरिया, डेगू व कालाजार जैसे संचारी रोगों का संक्रमण रोकने के लिए 10 से 12 जुलाई तक स्वच्छता अभियान चलाने तथा शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह पांच बजे तक सरकारी दफ्तरों, शहरी व ग्रामीण हाटों, बाजारों व गल्ला मंडियों तथा व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को सख्ती से बंद करने का एलान किया है। आवश्यक सेवाओं तथा रेल व हवाई सेवाओं को इस प्रतिबंध से मुक्त रखा गया है। शुक्रवार सुबह से प्रदेश भर में स्वच्छता संबंधी मुहिम शुरू हो गई। शाम को बंदी संबंधी आदेश लागू होने से पहले सरकार की ओर से दो नए निर्देश जारी किए गए। पहला आदेश मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने किया। इसमें ग्रामीण क्षेत्रों की तरह शहरी क्षेत्रों में भी समस्त औद्योगिक कारखानों को खुले रखने की छूट दी गई।