मंत्री जी! आपके विभाग के कर्मचारी बेंच रहे हैं कंडक्टरों की ‘ड्यूटी’

minister swatantra dev singh
परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के परिवहन विभाग में फैले भ्रष्टाचार की पोल खोलता एक ताजा मामला सामने आया है। रोडवेज बसों में कंडक्टर की ड्यूटी के लिए बाकायदा हर रूट के लिए रेट फिक्स हैं। तय कीमत को जो भी कंडक्टर चुकाता है उसे उस रूट के लिए ड्यूटी मिल जाती है। इस मामले का खुलासा तब हुआ जब परिवहन विभाग के कंडक्टर अनूप सिंह ने इस संदर्भ में आलमबाग डिपो के क्षेत्रीय प्रबंधक विवेकानंद तिवारी से ड्यूटी एक बदले पैसे लिए जाने की शिकायत की। आरोप है कि केंद्र प्रभारी ड्यूटी लगाने के एवज में पैसे की मांग करते हैं।

शिकायत होने के बाद जब विभागीय लोगों ने पड़ताल शुरू की तो पता चला कि हर रूट के लिए कीमत तय की गयी है। सबसे ज्यादा कीमत वाली ड्यूटी जयपुर की है, जिसे 8000 रुपये चुकाने के बाद किसी भी कंडक्टर को दे दिया जाता है। वहीं दिल्ली के लिए 5000 रुपये का रेट फिक्स किया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह पर भारी प्रमुख सचिव आराधना शुक्ला }

ये भी होता है खेल-

विभागीय सूत्रों की मानें तो ड्यूटी खरीदने के साथ ही कंडक्टर को कई चरणों में सामान के बदले कीमत चुकानी पड़ती है। कंडक्टर को इलेक्ट्रिक टिकट मशीन लेने के लिए कर्मचारी को 20 रुपये देने पड़ते हैं, ऐसा न करने पर उसे खराब मशीन दे दी जाती है। वहीं पैसों का बैग लेने के लिए कंडक्टर को 50 रुपये की घूस देनी पड़ती है। ड्यूटी वापसी के बाद कंडक्टर को रकम जमा करने के लिए लिपिक को भी पैसे देने पड़ते हैं।

क्या कहते हैं जिम्मेदार-

इस मामले को लेकर मुख्य प्रधान प्रबन्धक परिवहन निगम एचएस गाबा ने कहा कि पैसा लेकर ड्यूटी देना भ्रष्टाचार की श्रेणी में आता है। इसके साक्ष्य मिलने पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। मामला संज्ञान में आया है, इसकी जांच कराएंगे।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के परिवहन विभाग में फैले भ्रष्टाचार की पोल खोलता एक ताजा मामला सामने आया है। रोडवेज बसों में कंडक्टर की ड्यूटी के लिए बाकायदा हर रूट के लिए रेट फिक्स हैं। तय कीमत को जो भी कंडक्टर चुकाता है उसे उस रूट के लिए ड्यूटी मिल जाती है। इस मामले का खुलासा तब हुआ जब परिवहन विभाग के कंडक्टर अनूप सिंह ने इस संदर्भ में आलमबाग डिपो के क्षेत्रीय प्रबंधक विवेकानंद तिवारी से ड्यूटी एक बदले पैसे…
Loading...