1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. छेड़छाड़ पीड़िता से UP पुलिस के दरोगा का भद्दा मजाक, बोला- मुझे कोरोना वायरस हुआ

छेड़छाड़ पीड़िता से UP पुलिस के दरोगा का भद्दा मजाक, बोला- मुझे कोरोना वायरस हुआ

कानपुर। जहां एक तरफ सरकार और स्वास्थ्य विभाग देश में तेजी के साथ फैल रहे कोरोना वायरस को लेकर चिंतित है, पूरे देश में अलर्ट जारी है वहीं यूपी पुलिस का दरोगा छेड़छाड़ पीड़िता से कोरोना वायरस को लेकर भद्दा मजाक कर रहा है। बता दें कि कानपुर में एक महिला वकील ने इलाके के तीन युवकों पर छेड़छाड़ करने और विरोध करने पर तेजाब डालने की धमकी देने का केस दर्ज कराया था। पीड़िता की तरफ से जब जांच अधिकारी से 164 के बयान दर्ज करने को कहा गया तो उसने कहा कि वह कोरोना वायरस से पीड़ित हैं, और अगर जीवित रहा तो बयान दर्ज कर लेगा।

मामला कानपुर के चकेरी थाना क्षेत्र का है। बताया गया कि यहां की रहने वाली महिला ऐडवोकेट के साथ कुछ गुंडों ने हाल ही में छेड़छाड़ की थी और एसिड डालने की धमकी भी दी थी। महिला ने शिकायत की तो पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी और जांच चकेरी थाने के उपनिरीक्षण रामआसरे त्रिपाठी को दी गई थी। मंगलवार को पीड़िता की तरफ से महिला ने जांच अधिकारी त्रिपाठी से 164 के तहत बयान दर्ज कराने को कहा तो दरोगा ने कोरोना वायरस का सहारा लेकर मामले को टालने की कोशिश की।

सोशल मीडिया पर जो ऑडियो वायरल हो रहा है उसके मुताबिक, रामआसरे त्रिपाठी ने पीड़िता से कहा, ‘मैं कोरोना वायरस से पीड़ित हूं। अगर जीवन रहा तो बयान दर्ज कर लेंगे।’ इसके बाद पीड़िता ने पूछा कि आप कहां एडमिट हैं, तो उन्होंने कहा कि वह घर पर हैं और वहीं रेस्ट कर रहे हैं। फिल्हाल इस मामले में चकेरी के एसएचओ राम कुमार गुप्ता ने आरोपी दरोगा से स्पष्टीकरण मांगा है, आगे की कार्रवाई बाद में की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...