BJP विधायक के बेटे का खौफ, SO समेत पूरा थाना कर रहा तबादले की मांग

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अभी तक सत्ता में रहने वाली सपा सरकार के मंत्रियों और नेताओं के कारनामें सुर्खियों में छाये रहते थे। इस बार के विधानसभा चुनाव में प्रचंड जीत हासिल करने वाली भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक के बेटे की दबंगई का मामला शाहजहांपुर से सामने आया है। बताया जा रहा है कि विधायक के बेटे की दबंगई से परेशान थाने के एसओ समेत 18 पुलिसकर्मी कप्तान से तबादले की मांग कर रहे हैं।




यूपी की सत्ता में मजबूत दावेदारी दिखाने के बाद शाहजहांपुर के निगोही क्षेत्र से नवनिर्वाचित विधायक रोशनलाल वर्मा के बेटे सचिन इस समय चर्चा का विषय बने हुए हैं। भाजपा विधायक के बेटे सचिन से निगोही थाना क्षेत्र के एसओ अवनीश यादव समेत 18 पुलिसकर्मी खौफ में हैं। एसओ अवनीश का कहना है, मेरे पास विधायक रोशनलाल का फोन आया कि पेट्रोल टंकी पर दो पक्षों में विवाद हो रहा है, यह सुनकर मैं मौके पर पहुंचा।




एसओ का आरोप है कि मौके पर पहुंचने के बाद उन्होने दोनों पक्षों को शांत कराने का प्रयास किया, लेकिन अचानक विधायक का बेटा सचिन वहां पहुंच गया और एक लड़के की पिटाई करने लगा, काफी मना करने के बाद भी वह नहीं रुका। एसओ अवनीश का कहा है कि सचिन उसे अपनी गाड़ी में बैठाकर चला गया। बताया जाता है कि क्षेत्र में भाजपा विधायक की दबंगई के कई किस्से मशहूर हैं।


पूरा थाना कर रहा तबादले की मांग—

इस मामले के बाद पूरा थाना सामूहिक तबादले की मांग कर रहा है। एसओ समेत 18 पुलिसकर्मियों ने एसपी से तबादले की मांग की है। हालांकि मामला सत्ता पक्ष से जुड़ा होने के चलते आला-अधिकारी बोलने को तैयार नहीं हैं।


तहरीर मिलने पर करूंगा कार्रवाई–एसओ

एसओ अवनीश यादव का कहना है कि अगर इस मामले में शिकायत दर्ज कराई जाती है तो जरूर कार्रवाई की जाएगी। एसओ का कहना है कि ये लोग सत्ता की हनक में गलत काम कर रहे हैं, अभी तक इस मामले की तहरीर नहीं मिली है।