UP में शहीद के परिजनों को अभी तक नहीं मिला मुआवजा, मोदी को बताया ‘भगवान’





फिरोजाबाद। कश्मीर के पम्पोर में बीते 26 जून को हुए आतंकवादी हमले में शहीद हुए CRPF के जवान वीर सिंह के परिवार में आज एक CRPF सेना के मुख्यालय से पत्र प्राप्त हुआ,जिसमे प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी की ओर से उल्लेखित किया गया है कि 21.10.16 को “पुलिस स्मरण दिवस” पर तथा 31.10.16 को “योद्धा स्मरण दिवस” मनाया जायेगा। जिसमे शहीद हुए वीर सिंह ने जिस स्कूल में शिक्षा पाई है, उस स्कूल में उनके इतिहास और बहादुरी के बारे में बताया जायेगा, जिसमे शहीद के परिजन और रिश्तेदारों को भी विशेषतौर पर बुलाया जाएगा। जिससे स्कूल के छात्र छात्राए शहीदों के बारे में जान सके और गौरवान्वित हो सके।

मोदी हैं भगवान

जहाँ एक ओर राहुल गाँधी शहीदों की खून की दलाली का आरोप प्रधानमंत्री मोदी पर लगा रहे है, वही मोदी शहीदों के परिजनों के सम्मान के लिए कह रहे है। जब इस बारे में हमने पम्पोर में शहीद वीर सिंह के परिजनों से मुलाक़ात की तो उन्होंने राहुल गाँधी के इस बयान से नाराजगी व्यक्त की और मोदी को भगवान् तक कह डाला। उनका तो ये भी कहना था की राज्य सरकार ने अभी तक उनको 20 लाख की मदद का जो वायदा किया था अभी तक पूरा नहीं किया है, जबकि इटावा में शहीद हुए नितिन यादव को तो मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने दो दिन बाद ही बीस लाख रुपये का चेक दे दिया था।




शहीद वीर सिंह की बेटी ने कहा कि नरेंद्र मोदी जो हमारे देश के प्रधान मंत्री है उन्होंने तो हमारा बदला लिया है किसी को भी ये नहीं कहना चाहिए कि नरेंद्र मोदी दलाली कर रहे है।

राहुल ने नहीं की मुलाक़ात

उनका कहना है कि राहुल गाँधी एक हफ्ते पहले जब फिरोजाबाद आये थे तो हमारे यहाँ नहीं आये जबकि एक पुलिस वाले ने हमसे कहा था कि आपके यहाँ राहुल गाँधी आ रहे है लेकिन वो 3 किलोमीटर दूर से ही चले गए। राहुल गाँधी हमारे घर पर देखने तक नहीं आये अब वो प्रधान मंत्री के लिए कह रहे है की वो दलाली कर रहे है, हमारे हिसाब से तो उन्होंने सही नहीं कहा है हमारे पिता को शहीद हुए 3 माह हो गए लेकिन सीएम अखिलेश यादव ने जो वायदा किया था २० लाख रुपये देंगे अभी तक नहीं दिए है। परिजनों का कहना है कि हम दलित है शायद इसीलिए हमें मुआवजे की रकम नहीं मिली।