यूपी: पत्नी की हत्या कर शव फेंकने गए सपा नेता की डूबकर मौत, मल्लाह ने खोला राज

SP leader kills wife
यूपी: पत्नी की हत्या कर शव फेंकने गए सपा नेता की डूबकर मौत, मल्लाह ने खोला राज

चित्रकूट। चित्रकूट जिले में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां पूर्व ब्लॉक प्रमुख का पौत्र व सपा नेता भरत दिवाकर पत्नी की हत्या कर शव फेंकने गया था। इसी दौरान बरुआ बांध में संतुलन बिगड़ने से नाव पलट गई। जिससे डूबकर उसकी मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही संबंधित थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को बांध किनारे युवक की स्कार्पियो गाड़ी और उसमें रखे जूते मिले हैं।

Up Sp Leader Drowned In Death After Killing Wife Drowned By Sailor :

पुलिस के मुताबिक दहिनी चौकी शिवरामपुर में रहने वाली कर्वी सदर की पूर्व ब्लॉक प्रमुख दसोदिया देवी के पौत्र सपा नेता भरत दिवाकर ठेकेदारी करते हैं। वह कर्वी के मुलायम नगर के सामने नई बस्ती में मकान बनवा कर परिवार समेत रहते थे। बुधवार की सुबह वह रहस्यमय ढंग से भरतकूप चौकी अंतर्गत बरुआ बांध के पास से लापता हो गए। बुधवार सुबह पुलिस ने कपड़े, जूते और उनकी कार बांध के पास से बरामद की। कार में पत्नी की चप्पल भी मिलीं। सपा नेता के पास बरुआ बांध में मत्स्य आखेट का ठेका भी था। पुलिस ने खोजबीन शुरू की तो बांध के पास मछरिया गांव निवासी नाविक रामसेवक को सुबह उनके साथ देखे जाने की जानकारी हुई। पुलिस ने रामसेवक से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने राज उगल दिया।

रामसेवक ने पुलिस को बताया कि सपा नेता भरत दिवाकर पत्नी मीनू की हत्या के बाद शव बांध में फेंकने के लिए आया था। उसने रामसेवक की नाव किराए पर ली थी। बीच धारा में पहुंचने पर अचानक नाव पलट गई, जिसमें उनकी डूबकर मौत हो गई। वह किसी तरह तैर कर बाहर निकल आया। इस बात की जानकारी होते ही पुलिस और परिजनों के होश उड़ गए। कोतवाल एके सिंह ने बताया कि पत्नी की हत्या कर शव फेंकते समय बांध में डूब कर सपा नेता की मौत होने की जानकारी नाविक ने दी है। बांध में छह नाव और एक दर्जन गोताखोरों को लगाकर तलाश कराई जा रही है।

परिजनों ने पुलिस को बताया कि ठेकेदार पति ने पहले ही पत्नी की हत्या कर शव ठिकाने लगाने की योजना बना ली थी। इसीलिए बेटी को ननिहाल भेज दिया था। मंगलवार रात में पति-पत्नी के बीच झगड़ा भी हुआ था। नाविक को नाव लेकर बांध किनारे सड़क पर मिलने को कहा था, इसकी पुष्टि नाविक ने की है।

चित्रकूट। चित्रकूट जिले में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां पूर्व ब्लॉक प्रमुख का पौत्र व सपा नेता भरत दिवाकर पत्नी की हत्या कर शव फेंकने गया था। इसी दौरान बरुआ बांध में संतुलन बिगड़ने से नाव पलट गई। जिससे डूबकर उसकी मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही संबंधित थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को बांध किनारे युवक की स्कार्पियो गाड़ी और उसमें रखे जूते मिले हैं। पुलिस के मुताबिक दहिनी चौकी शिवरामपुर में रहने वाली कर्वी सदर की पूर्व ब्लॉक प्रमुख दसोदिया देवी के पौत्र सपा नेता भरत दिवाकर ठेकेदारी करते हैं। वह कर्वी के मुलायम नगर के सामने नई बस्ती में मकान बनवा कर परिवार समेत रहते थे। बुधवार की सुबह वह रहस्यमय ढंग से भरतकूप चौकी अंतर्गत बरुआ बांध के पास से लापता हो गए। बुधवार सुबह पुलिस ने कपड़े, जूते और उनकी कार बांध के पास से बरामद की। कार में पत्नी की चप्पल भी मिलीं। सपा नेता के पास बरुआ बांध में मत्स्य आखेट का ठेका भी था। पुलिस ने खोजबीन शुरू की तो बांध के पास मछरिया गांव निवासी नाविक रामसेवक को सुबह उनके साथ देखे जाने की जानकारी हुई। पुलिस ने रामसेवक से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने राज उगल दिया। रामसेवक ने पुलिस को बताया कि सपा नेता भरत दिवाकर पत्नी मीनू की हत्या के बाद शव बांध में फेंकने के लिए आया था। उसने रामसेवक की नाव किराए पर ली थी। बीच धारा में पहुंचने पर अचानक नाव पलट गई, जिसमें उनकी डूबकर मौत हो गई। वह किसी तरह तैर कर बाहर निकल आया। इस बात की जानकारी होते ही पुलिस और परिजनों के होश उड़ गए। कोतवाल एके सिंह ने बताया कि पत्नी की हत्या कर शव फेंकते समय बांध में डूब कर सपा नेता की मौत होने की जानकारी नाविक ने दी है। बांध में छह नाव और एक दर्जन गोताखोरों को लगाकर तलाश कराई जा रही है। परिजनों ने पुलिस को बताया कि ठेकेदार पति ने पहले ही पत्नी की हत्या कर शव ठिकाने लगाने की योजना बना ली थी। इसीलिए बेटी को ननिहाल भेज दिया था। मंगलवार रात में पति-पत्नी के बीच झगड़ा भी हुआ था। नाविक को नाव लेकर बांध किनारे सड़क पर मिलने को कहा था, इसकी पुष्टि नाविक ने की है।