UP: संभल में दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाई गई किशोरी ने दिल्ली के अस्पताल में दम तोड़ा

Rape and burn case
UP: संभल में दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाई गई किशोरी ने दिल्ली के अस्पताल में दम तोड़ा

नई दिल्ली। यूपी के संभल में दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाई गई नाबालिक पीड़िता ने नौ दिन बाद शनिवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। डाक्टरों ने बताया कि पीड़िता की हालत काफी नाजुक थी और वो 85 फीसदी से ज्यादा जल चुकी थी। नाबालिक पीड़िता को 22 नवंबर को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तब से उसे वेंटिलेटर पर रखा गया था।

Up Teenager Burnt Alive After Rape In Sambhal Dies In Delhi Hospital :

विगत 21 नवंबर को संभल के नखासा थाना इलाके के सिरसी कस्बे में घर में अकेली मौजूद किशोरी के साथ पड़ोस में रहने वाले युवक ने जबरन दुष्कर्म किया था। घटना के समय किशोरी की मां दवा लेने गई गई थी। वापस आने पर किशोरी ने मां को शर्मनाक वारदात के बारे में जानकारी दी। इस पर किशोरी की मां ने युवक को फटकार लगाते हुए पुलिस कार्रवाई की बात कही।

इसके बाद युवक फिर किशोरी के घर पहुंचा और मां-बेटी को धमकाया। इसके बाद उसने किशोरी पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। गंभीर हालत में किशोरी को उसी रात संभल जिला अस्पताल लाया गया था जहां से उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर किया गया था। जहां पीड़िता की आज 30 नवंबर को मौत हो गई।

संभल के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने घटना वाले दिन की अगली सुबह घटनास्थल का निरीक्षण किया और रिपोर्ट दर्ज करने के बाद आरोपी जीशान को देर रात बिलारी तिराहा से गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी जीशान को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया था। नाबालिक से रेप और जलाने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यालय से प्रभावी कार्रवाई के निर्देश दिए थे। जिसके बाद आईजी रमित शर्मा भी घटनास्थल पर पहुंचे थे।

नई दिल्ली। यूपी के संभल में दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाई गई नाबालिक पीड़िता ने नौ दिन बाद शनिवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। डाक्टरों ने बताया कि पीड़िता की हालत काफी नाजुक थी और वो 85 फीसदी से ज्यादा जल चुकी थी। नाबालिक पीड़िता को 22 नवंबर को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तब से उसे वेंटिलेटर पर रखा गया था। विगत 21 नवंबर को संभल के नखासा थाना इलाके के सिरसी कस्बे में घर में अकेली मौजूद किशोरी के साथ पड़ोस में रहने वाले युवक ने जबरन दुष्कर्म किया था। घटना के समय किशोरी की मां दवा लेने गई गई थी। वापस आने पर किशोरी ने मां को शर्मनाक वारदात के बारे में जानकारी दी। इस पर किशोरी की मां ने युवक को फटकार लगाते हुए पुलिस कार्रवाई की बात कही। इसके बाद युवक फिर किशोरी के घर पहुंचा और मां-बेटी को धमकाया। इसके बाद उसने किशोरी पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। गंभीर हालत में किशोरी को उसी रात संभल जिला अस्पताल लाया गया था जहां से उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर किया गया था। जहां पीड़िता की आज 30 नवंबर को मौत हो गई। संभल के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने घटना वाले दिन की अगली सुबह घटनास्थल का निरीक्षण किया और रिपोर्ट दर्ज करने के बाद आरोपी जीशान को देर रात बिलारी तिराहा से गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी जीशान को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया था। नाबालिक से रेप और जलाने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यालय से प्रभावी कार्रवाई के निर्देश दिए थे। जिसके बाद आईजी रमित शर्मा भी घटनास्थल पर पहुंचे थे।