1. हिन्दी समाचार
  2. UP: कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1955, अब तक 31 की मौत, रोजगार देने का सरकार कर रही प्रयास

UP: कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1955, अब तक 31 की मौत, रोजगार देने का सरकार कर रही प्रयास

Up The Number Of Corona Patients Was 1955 31 Deaths So Far Government Is Trying To Provide Employment

लखनऊ। जहां भारत में कोरोना संक्रमिता की संख्या 28 हजार के करीब पंहुच चुकी है वहीं यूपी में भी तेजी से आंकड़ा बढ़ता चला जा रहा है। यूपी में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 2000 के लगभग पहुंच गई है। प्रदेश के प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने सोमवार को बताया कि अभी तक प्रदेश में कुल संक्रमित मरीज 1955 हुए हैं, 335 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं जबकि 31 की मौत हो चुकी है। इस समय एक्टिव मरीजों की संख्या 1589 है। प्रदेश में अब तक 59 जिलों में संक्रमण फैला है।

पढ़ें :- छोटी-छोटी गलतियों को ध्यान दिया जाए तो दुघर्टनाओं पर लगेगी रोक : सीएम योगी

इस दौरान प्रदेश के अपर मुख्य सचिव, गृह एवं सूचना अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस आपदा से निपटने के लिए गठित टीम-11 के साथ दैनिक बैठक करते हुए प्रदेश में आपदा की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने स्वास्थ्य सुविधाओं की बढ़ोत्तरी को आवश्यक बताते हुए जनसुविधाओं का समुचित ध्यान रखने के लिए निर्देशित किया है। प्रधानमंत्री से बैठक के बाद सीएम ने निर्देश दिया है कि प्रदेश में 1 मई से खाद्यान्न का पुनः वितरण होगा। सीएम का आदेश है कि प्रदेश में L1, L2, L3 कोविड अस्पतालों की क्षमता बढ़ाई जाए. PPE किट, मास्क आदि जिलों में पहुंचाने के आदेश दिए गए हैं।

अवनीश अवस्थी ने बताया कि जनपदों में 15 से 20000 क्षमता वाले क्वारेंटाइन सेंटर बनाने के आदेश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि हरियाणा से अब तक 328 बसों से 9992 मजदूर यूपी लाये गये हैं। इनका मेडिकल टेस्ट हो चुका है. इन्हें 349 बसों से गृह जनपद भेजा जा रहा है। सभी हरियाणा से आये हैं। उन्होंने बताया कि अभी तक कुल 12,200 श्रमिक वापस आए हैं।

रोजगार देने के लिए यूपी सरकार कर रही प्रयास

सीएम ने कहा कि यूपी में हज़ारों की संख्या में औद्योगिक इकाई चालू हैं। चीनी मिलें भी काम कर रहीं हैं। कुल 119 चीनी मिलों में से 32 का काम पूरा हुआ. यूपीडा में 5000 से ज्यादा श्रमिक काम कर रहें हैं। वहीं पीडब्ल्यूडी, सिंचाई, शहरी विकास विभाग के काम भी आरम्भ हो गई है।

पढ़ें :- कांग्रेस नए साल के कैलेंडर के जरिए पहुंचेगी घर-घर, प्रियंका गांधी की लगी हैं तस्वीरें

प्रयागराज में फंसे छात्रों को भी घर पहुंचाने की तैयारी

उन्होंने कहा कि वहीं प्रयागराज में फंसे छात्र-छात्राएं, जो लगभग 9000 हैं, इन्हें 300 बसें लगाकर इन्हें गृह जनपद पहुंचाने का आदेश हुआ है। डीएम और एसएसपी को आदेश जारी हो गए हैं।

टीचरों को बनाया जाए कोरोना वॉरियर

उन्होंने बताया कि सीएम ने आज आगरा, लखनऊ, कानपुर, गौतमबुद्धनगर और गाजियाबाद में लॉक डाउन की समीक्षा की और नोडल अफसरों से जानकारी ली. उन्होंने कहा है कि मेडिकल इंफेक्शन बढ़ने न दिया जाए। हॉटस्पॉट में होम डिलेवरी की सुरक्षा मजबूत रहे. सीएम ने कहा कि हमारे प्रदेश में मृत्यु दर और कोरोना वृद्धि दर काफी कम है। डिग्री कॉलेजों से लेकर बेसिक शिक्षा तक टीचरों को कोरोना वॉरियर बनाया जाए, ट्रेनिंग कराई जाए। बैंकों में भीड़ कम करने का प्रयास किया जाए। मंडियों में भीड़ न बढ़ने न दी जाए, गांवों में वैकल्पिक मंडी खोली जाए।

पढ़ें :- सीरम इंस्टीट्यूट में आग लगने से पांच लोगों की मौत, कोविड वैक्सीन सुरक्षित

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...