यूपी में यातायात पुलिस की वर्दी का रंग बदला, एक दिसंबर से लागू होगा नियम

up-traffic-police

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में यातायात पुलिस की वर्दी का रंग अगले माह से बदल जाएगा। एक दिसंबर से यातायात पुलिसकर्मी खाकी रंग के बजाय नीले रंग की पैंट में नजर आएंगे। डीजीपी सुलखान सिंह ने यातायात पुलिस के हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल को खाकी टेरीकॉट पैंट की जगह गहरी नीली पैंट पहनने के निर्देश दिए हैं।

गृह विभाग के प्रवक्ता के मुताबिक यातायात पुलिसकर्मी खाकी पैंट के बजाय फिर से नीली पैंट पहनेंगे, ताकि उनकी अलग से पहचान हो सके। यह निर्णय आगामी एक दिसम्बर से लागू होगा। यातायात पुलिसकर्मी एक दिसंबर से सफेद शर्ट तथा नीली पैंट पहनेंगे। सरकार ने वर्दी के लिए हर साल प्रतिकर्मी 2,250 रुपये आवंटित किए हैं।

{ यह भी पढ़ें:- अखिलेश यादव ने कहा, मुझे PM नहीं सिर्फ यूपी का CM ही बनना पसंद }

बता दें कि इससे पहले एक अप्रैल 2008 को तत्कालीन बहुजन समाज पार्टी सरकार ने यातायात पुलिसकर्मियों की पैंट का रंग सफेद से बदलकर नीला तय किया था। उस दौरान तर्क था कि प्रदूषण के कारण सफेद पैंट जल्दी गंदा हो जाता है। वहीं साल 2012 में प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर उसने मायावती सरकार के फैसले को पलटते हुए एक जुलाई 2012 से यातायात पुलिसकर्मियों की पतलून का रंग खाकी निर्धारित कर दिया था।

{ यह भी पढ़ें:- शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने ईद मनाने से किया इंकार, कहा पाकिस्तान की नापाक हरकतों की वजह से कर रहे विरोध }

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में यातायात पुलिस की वर्दी का रंग अगले माह से बदल जाएगा। एक दिसंबर से यातायात पुलिसकर्मी खाकी रंग के बजाय नीले रंग की पैंट में नजर आएंगे। डीजीपी सुलखान सिंह ने यातायात पुलिस के हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल को खाकी टेरीकॉट पैंट की जगह गहरी नीली पैंट पहनने के निर्देश दिए हैं। गृह विभाग के प्रवक्ता के मुताबिक यातायात पुलिसकर्मी खाकी पैंट के बजाय फिर से नीली पैंट पहनेंगे, ताकि उनकी अलग से पहचान हो सके।…
Loading...