शर्मनाक! नहीं मिली एम्बुलेंस, भाई के कंधों पर दम तोड़ गयी बहन

मिर्ज़ापुर। यूपी के स्वास्थ्य महकमे की घोर लापरवाही उजागर हुई है। मिर्ज़ापुर में 108 एंबुलेंस न मिलने पर एक विवाहिता ने अपने भाई के कंधो पर दम तोड़ दिया। हालत बिगड़ने पर डॉक्टर्स ने महिला को सीएचसी मड़िहान से जिला अस्पताल रेफर किया था। परिजनो का आरोप है कि दूसरे अस्पताल भेजने पर उन्होने एम्बुलेंस की मांग की, लेकिन एक घंटे तक एम्बुलेंस नहीं पहुंची।

मामला मिर्जापुर के ददरा क्षेत्र का है। यहाँ के निवासी शिवकुमार की पत्नी सावित्री पिछले दो साल से मायके जुड़िया में अपने डेढ़ साल के बेटे के साथ रह रही थी। सावित्री के पति का कहना है कि अपने पहले बच्चे के जन्म देने के बाद से ही सावित्री की तबीयत अक्सर खराब रहती थी। जिसके बाद वो अपने मायके चली गयी थी। बुधवार को सावित्री की आचनक तबीयत खराब हुयी, परिजनो ने पड़ोस के डॉक्टर से इलाज शुरू कराया।

हालत में सुधार ना होने पर परिजन पीड़िता को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए, जहां चिकित्सकों ने मंडलीय अस्पताल रेफर कर दिया। परिजनो के पास आर्थिक तंगी होने के चलते उन्होने 108 नंबर पर फोन कर एंबुलेंस की मांग की। करीब एक घंटे तक एंबुलेंस वहाँ नहीं पहुंची। हालत बिगड़ती देख भाई अपनी बहन को कंधे पर उठाकर जिला अस्पताल के लिए निकल पड़ा, जहां रास्ते में उसकी मौत हो गयी।