योगी कैबिनेट ने ‘यूपीकोका’ को दी मंजूरी, कई अहम प्रस्ताओं पर लगी मुहर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में बुधवार को लोक भवन में मंत्रिपरिषद की बैठक सम्पन्न हुई। इस बैठक में मकोका की तर्ज पर यूपीकोका लाए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। अब यह बिल विधानसभा में पेश किया जाएगा। इसके साथ ही कई अन्य अहम फैसलों को कैबिनेट बैठक में मंजूरी दी गई।

कैबिनेट बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि प्रदेश में गुंडा, माफिया, अशांति फैलाने वालों, अवैध खनन करने वालों और अवैध रूप से वनों की कटाई करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए ‘उप्र संगठित अपराध नियंत्रण विधेयक-2017’ के प्रस्ताव को कैबिनेट ने मंजूरी दी है।

{ यह भी पढ़ें:- मुजफ्फरनगर दंगों के आरोपी भाजपा नेताओं के केस होंगे वापस }

उन्होंने कहा, “इससे प्रदेश में अपराधों पर काफी हद तक नियंत्रण पाया जा सकेगा। देश के अन्य राज्यों में इस तरह के कानूनों का परीक्षण करने के बाद यूपीकोका विधेयक के मसौदे को मंजूरी दी गई है।”

उन्होंने बताया कि कैबिनेट में 16 प्रस्तावों पर चर्चा की गई। इसमें वक्फ अधिकरण रामपुर को खत्म करने के प्रस्ताव को भी मंजूर कर लिया गया है। अब वक्फ अधिकरण रामपुर की जगह वक्फ अधिकरण लखनऊ का गठन किया जाएगा। एफएसडीए सेवा नियमावली 2017, केजीएमयू के शताब्दी फेज 1 की तीसरी मंजिल पर अंग प्रत्यारोपण यूनिट, आईसीयू के प्राइवेट वॉर्ड को अपग्रेड करने का प्रस्ताव भी मंजूर हुआ है।

{ यह भी पढ़ें:- पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र से शुरू हुआ 'युवा उद्घोष', 25 छात्र हिरासत में }

Loading...