1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. UPPCL में बड़ा घालमेल, प्रोजेक्ट मैनेजर पर कार्रवाई महज दिखावा, एमडी की मेहरबानी बरकरार

UPPCL में बड़ा घालमेल, प्रोजेक्ट मैनेजर पर कार्रवाई महज दिखावा, एमडी की मेहरबानी बरकरार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश प्रोजेक्ट कॉर्पोरेशन लिमिटेड(यूपीपीसीएल) में लगातार हो रही अनियमितताओं के चलते निर्माण इकाई के परियोजना प्रबन्धक राजेश वर्मा को लेकर विभाग द्वारा एक पत्र और जारी किया गया है। प्रबंध निदेशक डॉक्टर महेंद्र कुमार निगम द्वारा जारी पत्र में लिखा गया है कि राजेश वर्मा ने लगातार ई-टेंडरिंग प्रक्रिया को प्रभावित करते हुए सरकारी राजस्व को भी क्षति पहुंचाई है। साथ ही जारी पत्र में कहा गया है कि राजेश वर्मा ने ई-टेंडरिंग प्रक्रिया को प्रभावित कर वर्क ऑर्डर के माध्यम से कई कार्यों को टुकड़ों में अपने चहेतों को बांट दिये।

इस संबंध में पत्र जारी कर राजेश वर्मा को तत्काल प्रभाव से महाप्रबंधक(तकनीकी एवम परिवाद) कार्यालय लखनऊ से सम्बद्ध कर दिया गया है। बताते चलें कि इससे पहले राजेश वर्मा के खिलाफ एक शिकायत पत्र प्रमुख सचिव टी. वेंकटेश द्वारा जारी किया गया था। उस पत्र में राजेश वर्मा को लेकर कहा गया था कि उन्होने विभागीय नियमों को ताक पर रखते हुए ई-टेंडर प्रक्रिया को दरकिनार कर वर्क ऑर्डर के आधार पर काम बांट दिये। सूत्रों की मानें एमडी के चहेते माने जाने वाले राजेश वर्मा पर काफी मेहरबानी बनी हुई है।

एमडी ने राजेश वर्मा को टेक्निकल कमेटी अनुभाग से अटैच कर दिया है। जिस आरोप में राजेश वर्मा की विभागीय जांच हो रही है। उसी टेंडर कमेटी में उसको अटैच करना एमडी की मनमर्जी और विभाग को अपने ढंग से चलाने का कार्य बताया जा रहा है। बता दें कि एमडी निगम और राजेश वर्मा मूलतः सिंचाई विभाग से आते हैं। इसी वजह से दोनों की अंडरस्टैंडिंग बनी हुई है और एमडी, राजेश का मोह छोड़ नहीं पा रहे हैं।

बताते चलें कि प्रोजेक्ट मैनेजर राजेश वर्मा ने मुख्यमंत्री के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए लखनऊ विश्वविद्यालय का काम अपनी मनमर्जी के मुताबिक वर्क आर्डर में कर दिया। यही नहीं राजेश ने मिलीभगत के चलते कई काम अपने चहेते ठेकेदारों को बांट दिये। हालांकि अब देखना ये होगा कि ऐसे मलाईदार पदों पर बैठे हुए अफसरों पर सरकार की निगाहें कब टेढ़ी होती हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...