सीएम योगी के कार्यक्रम में उछाले गए गमछे, फेंकी गईं कुर्सियां…

gazipur-cm-yogi
सीएम योगी के कार्यक्रम में उछाले गए गमछे, फेंकी गईं कुर्सियां...

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में होने वाली पीएम नरेन्द्र मोदी की जनसभा की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को विरोध का सामना करना पड़ा। कार्यक्रम में मौजूद अभ्यर्थियों ने सीएम योगी की मौजूदगी में हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान सीएम योगी के साथ केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा भी मंच पर मौजूद थे। मुख्यमंत्री के जाते ही अभ्यर्थी बेकाबू हो गए और कुर्सियां पटकने लगे। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने बेकाबू भीड़ पर काबू पाया।

Uproar During Yogi Adityanath Appearance In Rozgar Mela Ghazipur :

दरअसल, गाजीपुर जिले के आरटीआई मैदान में सीएम योगी तैयारियों का जायजा लेकर केन्द्रीय संचार एवं रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा के साथ सहजानंद पीजी कॉलेज में कौशल विकास मंत्रालय की ओर से आयोजित रोजगार मेले में पहुंचे थे। कार्यक्रम का शुभारंभ भी सीएम योगी ने किया। इसी दौरान वहां मौजूद करीब 10 हजार अभ्यर्थियों ने हंगामा शुरू कर दिया। बेकाबू अभ्यर्थी गमछा उछालकर मंच की ओर भागे। हालांकि एसपीजी के जवानों ने उन्हे पकड़ लिया। इस दौरान अभ्यर्थी खूब शोर करते रहे।

हंगामे के दौरान ही मुख्यमंत्री ने अपना सम्बोधन शुरू किया। सीएम योगी के जाते ही अभ्यर्थियों का हंगामा बढ़ गया। बेकाबू लोगों ने कुर्सियां फेंकनी शुरू कर दी और आपस में मारपीट भी शुरू कर दी। हंगामा शांत कराने के लिये खुद केन्द्रीय मनोज सिन्हा को बैरिकेडिंग पार कर अभ्यर्थियों की दीर्धा में जाना पड़ा उन्होंने समझाया, फिर मंच पर आकर कहा कि जो विकास और रोजगार नहीं चाहते वही लोग हंगामा कर रहे हैं।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में होने वाली पीएम नरेन्द्र मोदी की जनसभा की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को विरोध का सामना करना पड़ा। कार्यक्रम में मौजूद अभ्यर्थियों ने सीएम योगी की मौजूदगी में हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान सीएम योगी के साथ केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा भी मंच पर मौजूद थे। मुख्यमंत्री के जाते ही अभ्यर्थी बेकाबू हो गए और कुर्सियां पटकने लगे। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने बेकाबू भीड़ पर काबू पाया। दरअसल, गाजीपुर जिले के आरटीआई मैदान में सीएम योगी तैयारियों का जायजा लेकर केन्द्रीय संचार एवं रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा के साथ सहजानंद पीजी कॉलेज में कौशल विकास मंत्रालय की ओर से आयोजित रोजगार मेले में पहुंचे थे। कार्यक्रम का शुभारंभ भी सीएम योगी ने किया। इसी दौरान वहां मौजूद करीब 10 हजार अभ्यर्थियों ने हंगामा शुरू कर दिया। बेकाबू अभ्यर्थी गमछा उछालकर मंच की ओर भागे। हालांकि एसपीजी के जवानों ने उन्हे पकड़ लिया। इस दौरान अभ्यर्थी खूब शोर करते रहे। https://youtu.be/t_OIrkwI1t4 हंगामे के दौरान ही मुख्यमंत्री ने अपना सम्बोधन शुरू किया। सीएम योगी के जाते ही अभ्यर्थियों का हंगामा बढ़ गया। बेकाबू लोगों ने कुर्सियां फेंकनी शुरू कर दी और आपस में मारपीट भी शुरू कर दी। हंगामा शांत कराने के लिये खुद केन्द्रीय मनोज सिन्हा को बैरिकेडिंग पार कर अभ्यर्थियों की दीर्धा में जाना पड़ा उन्होंने समझाया, फिर मंच पर आकर कहा कि जो विकास और रोजगार नहीं चाहते वही लोग हंगामा कर रहे हैं।